बरसात में भी मंडी के नौहली द्रमणवासी पानी के लिए तरस रहे

in-the-rainy-season-the-residents-of-the-mandi-have-longed-for-water

बरसात की वजह से जहां तो एक ओर जान-माल का इतना नुक्सान हो रहा है वहीं जिला मंडी जोगेंद्रनगर उपमंडल के अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत नौहली के द्रमण गांव के लोग ऐसी बरसात के मौसम में भी पानी की बूंद बूंद को मोहताज हुए हैं। इस गांव में पिछले दस दिनों से पेयजल वाले नल सूखे पड़े हैं, जिस से लोग बूंद बूंद पानी को तरस रहे हैं।

दूर दूर से पानी ढो कर ला रहे तब हो रहा चूल्हा-चौका

पानी की जरूरत के कारण ग्रामीणों को मीलों पैदल चलकर प्राकृतिक पेयजल स्त्रोतों से पानी लाकर चूल्हा-चौका व अन्य काम करना पड़ रहा है। लोगों ने बताया की जल विभाग के पास पेयजल भंडारण टैंक में समुचित पानी होने के बावजूद गांव में पानी की बूंद तक नहीं आ रही है, जिस से लोग बहुत परेशान हैं कियोंकि विभाग वाले भी इस पर कोई ख़ास ध्यान नहीं दे रहे। लोगों ने आरोप लगाते हुए बताया कि पेय जल भंडारण टैंक से सही ढंग का वितरण न होने के कारण यह समस्या आई है। इलाके में जगह-जगह पर पाइप लाइनों के क्षतिग्रस्त होने की वजह से भी पर्याप्त पानी गांव तक नहीं पहुंच पा रहा है। जगह जगह पर पेयजल लाइनें क्षतिग्रस्त होने कि बजह से व्यर्थ में पानी बह रहा है।

शरारती तत्व गांव को जाने वाली पेयजल आपूर्ति के साथ कर रहे छेड़छाड़

पातका में बनाए गए वाटर डिस्ट्रीब्यूशन जंक्शन से द्रमण, नौहली, छतरोड़ा, बतनाहर और भगवाहर गांव को पानी की आपूर्ति की जाती है। द्रमण के हेम सिंह, बक्शी राम, प्रेम सिंह, मान सिंह, पीतांबर, देश राज, मंगली देवी, शेष राम और रोशन लाल ने बताया कि धार बागला में विभाग द्वारा पेयजल भंडारण टैंक बनाया गया है। लेकिन इस का कोई फायदा नहीं हैं कियोंकि वहां कोई वाटर गार्ड न होने से पानी का सही बंटवारा नही हो पा रहा है। प्रशाशन की अनदेखी की वजह से शरारती तत्व गांव को जाने वाली पेयजल आपूर्ति के साथ छेड़छाड़ करते हैं।

राजेश मोंगरा, अधिशासी अभियंता जोगिन्दरनगर ने आश्वाशन देते हुए कहा है कि गांव में पेयजल समस्या के समाधान के लिए शीघ्र ही विभागीय जेई और स्टाफ को साइट निरीक्षण के आदेश जारी किए जाएंगे ।

ये भी पढ़ें :

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *