रमेश धवाला ने विरोधियों को दिया मुँह तोड़ जबाब, कहा पहले ये लोग ही पार्टी के झंडे जलाते थे

Ramesh Dhawala

वो कहते हैं न वो राजनीती ही क्या जिसमें वाद-विवाद और मन-मुटाव न हो, कुछ ऐसा ही आज कल ज्वालामुखी के विधायक एवं राज्य योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष रमेश धवाला के साथ हो रहा है, बहुत सारे लोगों ने उनके खिलाफ इक्क्ठे होकर राजधानी शिमला में उनकी शिकायत की है । सूत्रों के अनुसार हिमाचल प्रदेश के सबसे बड़े जिले कांगड़ा के ज्वालामुखी में भाजपा के भीतर ध्वाला को लेकर ज्वाला ज्यादा भड़क गई है।

प्रतिनिधिमंडल में शामिल नेताओं की निष्ठाओं पर सवाल खड़े किए

इस के साथ ही ज्वालामुखी हल्के के विधायक एवं राज्य योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष रमेश धवाला ने भी अब विरोधियों के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। धवाला जी ने मुख्यमंत्री से एक दिन पहले मिले प्रतिनिधिमंडल में शामिल नेताओं की निष्ठाओं पर सवाल खड़े किए, जिसमें उन्होंने कहा कि प्रदेश में कुछ दिन से भाजपा के भीतर जिस तरह का घटनाक्रम चल रहा है वह पार्टी के लिए अच्छा विकल्प नहीं है। धवाला ने ज्वालामुखी के चंगर क्षेत्र के कुशल ठाकुर पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह उन लोगों को लेकर सीएम से मिलवाने ले गए, जिन्होंने कभी भाजपा के झंडे जलाए थे।

संगठन के खिलाफ काम करने वालों को मिल रहा ऊपर से संरक्षण

राजधानी शिमला में श्री ध्वाला जी ने कहा कि संगठन के खिलाफ काम करने वालों को ऊपर से संरक्षण मिल रहा है। इस कारण पार्टी की व्यवस्था दिन-व-दिन बढ़ती ही जा रही है। उन्होंने पिछले कल वीरवार को ज्वालामुखी से आए प्रतिनिधिमंडल का जिक्र करते हुए कहा कि इसका प्रतिनिधित्व करने वालों को भाजपा मंडल ने पार्टी में से काफी समय से निष्कासित कर रखा है।

वहीं अब आगामी कार्रवाई के लिए मामला संगठन में ऊपरी स्तर पर भेजा है, लेकिन वहां पर भी कोई कार्रवाई नहीं हुई है। ध्वाला ने ये भी कहा कि हर हल्के में ऐसे लोग सक्रिय हैं जो किसी न किसी कि शह कि बजह से BJP विधायकों की टांग खिंचाई कर रहे हैं, जो कि पार्टी के लिए अच्छी बात नहीं है |

ये भी देखें :

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *