पेपर चेकिंग में लापरवाही की वजह से तीन शिक्षकों पर लगाया प्रतिबंध

हिमाचल प्रदेश के सरकारी स्कूलों की स्तिथि हर रोज खराब होती जा रही है। स्कूलों की शैक्षणिक गुणवत्ता को सुधारने के लिए हिमाचल शिक्षा बोर्ड ने शिक्षकों पर सख्त एक्शन लेना शुरू कर दिया है। वार्षिक परीक्षा के पेपरों की गलत चेकिंग करने और उसमें लापरवाही बरतने वाले अध्यापकों को शिक्षा बोर्ड बैन करने जा रही है। ऐसे लापरवाह शिक्षक भविष्य में दोबारा पेपर चेकिंग की प्रक्रिया में भाग नहीं ले सकते हैं। हिमाचल शिक्षा बोर्ड ऐसे शिक्षकों पर विभागीय कार्रवाई के लिए भी ज़ोर डाल रही है।

प्रतिबंधित अध्यापक नहीं कर पाएँगे भविष्य में चैकिंग

शिक्षा बोर्ड ने ऐसे तीन शिक्षक पेपर चेकिंग के लिए आगे से बैन कर दिए। जिन्होंने पेपर चेकिंग में लापरवाही बरती थी, शिक्षा बोर्ड ने शिक्षा निदेशक को नोटिस जारी कर कार्रवाई करने की अनुशंका की है। जिस में लापरवाही बरतने का कारण पूछा गया है। ऐसे लापरवाह और शिक्षकों की लिस्ट भी बनाई जा रही है जिन पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। शिक्षा बोर्ड के सचिव धर्मेश रमोत्रा ने बताया कि सोमवार को तीन शिक्षकों पर कार्रवाई की गई है। अन्य ऐसे अध्यापकों की भी लिस्ट बनाई जा रही है। जो बच्चों के भविष्य के साथ ऐसा करते हैं।

गणित विषय में सही उत्तर के दिए 0 अंक

बच्चों के भविष्य के साथ कोई भी खिलवाड़ और अन्याय न हो, इसी बात को सामने रखते हुए हिमाचल शिक्षा बोर्ड ने ये कदम उठाया है। रमोत्रा के अनुसार जब वो एक केस स्टडी कर रहे थे तो उस समय उन्होंने पाया कि गणित की अंसरशीट में एक अध्यापक ने विद्यार्थी को एक प्रश्न के उत्तर में 3 नंबर दिए। लेकिन, बाद उसे उसी उत्तर का जीरो नंबर दिया। जबकि, यह उत्तर सही था। इस मामले में भी कार्रवाई की जा रही है |

ये भी पढ़ें :

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *