धर्मशाला युद्ध संग्रहालय में आयेगा विजयंत टैंक

हिमाचल प्रदेश जिला काँगड़ा के धर्मशाला स्थित युद्व संग्रहालय में जल्द ही सेना का विजयंता टैंक स्थापित किया जाएगा।

राकेश प्रजापति ने आज यहां युद्ध स्मारक एवं संग्रहालय के निर्माण कार्यों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुये यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि युद्व संग्रहालय के कार्यों को गति प्रदान की जाएगी। टैंक की स्थापना के लिये प्लेटफार्म और भव्य प्रवेश द्वार का निर्माण करने के निर्देश दिए जा चुके हैं।

एचपीटी-32 विमान को पहले ही स्थापित किया जा चुका है

इस संग्रहालय में सेना और नौसेना से सम्बंधित अन्य सामग्री भी प्रदर्शित की जाएगी जिसे जबलपुर और नौ सेना मुख्यालय से लाया जाएगा। संग्रहालय में वायु सेना से प्राप्त एचपीटी-32 विमान को पहले ही स्थापित किया जा चुका है।

उन्होंने बताया कि संग्रहालय को अनोखा स्वरूप देने के लिए सेना के सेवानिवृत अधिकारियों, विशेषज्ञों एवं अन्य लोगों का सहयोग लिया जा रहा है। इसके निर्माण के लिए एक कोर कमेटी का गठन किया गया है। युद्ध संग्रहालय में जनरल जोरावर सिंह की प्रतिमा, 21 परमवीर चक्र विजेताओं की प्रतिमाएं, हिमाचल के विक्टोरिया क्रास, परमवीर चक्र, अशोक चक्र विजेताओं की प्रतिमाएं, सशस्त्र सेनाओं के ध्वज, जिन विभिन्न रेजिमेंटस में हिमाचल के सैनिक तैनात हैं उनके एनक्लोजर तथा विभिन्न युद्धों तथा इनसे सम्बंधित सामग्री प्रदर्शित की जाएगी।

प्रदर्शनी में युद्ध स्मारक में विभिन्न युद्धों को दर्शाया जाएगा

इसके अलावा हिमाचली सैनिकों की तैनाती वाली रेजिमेंट्स के एनक्लोजर भी म्यूजियम में स्थापित किए जाएंगे। इस युद्ध स्मारक में विभिन्न युद्धों को दर्शाया जाएगा। उन्होंने कहा कि युद्ध संग्रहालय में सेना से जुड़ी अलग-अलग घटनाओं की ऑडियो-वीडियो के माध्यम से प्रदर्शन की भी सुविधा रहेगी।

प्रजापति के अनुसार संग्रहालय में सेना से जुड़ी विभिन्न घटनाओं की ऑडियो-वीडियो के माध्यम से प्रदर्शन की सुविधा भी रहेगी। यह संग्रहालय अपने आप में अनोखा होगा और बड़ी संख्या में धर्मशाला आने वाले पर्यटकों के लिए एक दर्शनीय स्थल होगा ताकि यहां आने वाला प्रत्येक व्यक्ति अपने साथ एक जीवंत अनुभव लेकर जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *