परवाणू में नशा मुक्ति केंद्र में पिटाई के बाद मौत

Death after beating in de-addiction center in Parwanoo

Death after beating in de-addiction center in Parwanoo

परवाणू पुलिस में एक महिला कुलविद्र कौर ने परवाणू स्थित नशा मुक्ति केंद्र पर अपने पति से पिटाई के बाद अस्पताल में मौत होने का आरोप लगाया है। कुलविद्र कौर ने परवाणू पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करवाई कि उसका पति जसविद्र सिंह व जेठ देवेंद्र सिंह शराब की लत से ग्रस्त थे। जिसके कारण 19 अगस्त को दोनों का नशे छुड़वाने के लिए परवाणू स्थित एक नशा मुक्ति केंद्र में उन्होंने फोन किया । नशा मुक्ति केंद्र से उसी शाम तीन लोग एक निजी गाड़ी से उनके घर पहुंचे और दोनों को केंद्र लेकर चले गए थे । जिसके बाद 20 अगस्त को वह अपने ससुर हरि सिंह व मौसा सुरेंद्र सिंह के साथ केंद्र गए व दोनों की फीस व अन्य सामान देकर लौट आए ।

तबियत बिगड़ने के बाद चंडीगढ़ के सेक्टर 32 अस्पताल किया था रैफर

शिकायत में उन्होंने बताया कि 23 अगस्त शाम को केंद्र से फोन आया कि उसके पति की हालत नाजुक है और उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाना पड़ेगा और उनको भी साथ चलना पड़ेगा। बाद में उसी रात केंद्र के तीन कर्मचारी उसके पति को लेकर घर आए, वह उनके साथ गाड़ी में चंडीगढ़ के सेक्टर 32 अस्पताल में चली गई । डॉक्टरों द्वारा चंडीगढ़ अस्पताल में उसके पति को मृत घोषित कर दिया गया, तो वहां उसने देखा कि उसके पति की दोनों कलाइयों और टांगों पर किसी चीज से बांधने के निशान थे । मुंह व अन्य शरीर पर भी मारपीट के काले निशान थे । इस पर उसे शक हो रहा है कि उनसे नशा मुक्ति केंद्र में मारपीट की गई है, और उसी कि बज़ह से उसके पति कि मौत हुयी है ।

ये भी पढ़ें :

पुलिस ने शिकायत के बाद मामला दर्जकर लिया है, परवाणू के डीएसपी योगेश रोल्टा ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की वजह पता चल पाएगी, उसके बाद ही अगली कार्यवाई पर अम्ल होगा ।