हिमाचल प्रदेश में B.Ed के लिए कॉलेज में बदलेंगे नियम व शर्तें

Terms and conditions will change in college for B.Ed in Himachal Pradesh

Terms and conditions will change in college for B.Ed in Himachal Pradesh

हिमाचल प्रदेश सरकार बी. एड. कॉलेज के नियमों को और सख्त बनाने को कहा है। जिस के लिए कि सरकार ने शिक्षा विभाग को नए नियम व शर्तें तैयार करने के निर्देश दिए हैं। वहीं शिक्षा विभाग ने भी बी. एड. कॉलेजों के लिए नए नियम और शर्तें बनाना शुरू कर दिया है । नए वदलाव के तहत कॉलेजों के लिए जमीन, भवन, मूलभूत सुविधाओं, कोर्स और स्टाफ को लेकर नए नियम और शर्तें तय की जाएंगी । सूत्रों के अनुसार अगस्त माह के अंत तक सरकार प्रदेश में 70 से अधिक बी.एड. कॉलेजों व उनके संचालन के लिए नए नियम लागू कर सकती है।

नए वदलाव में क्या-क्या नियम व् शर्तें होंगी

मौजूदा नियम के तहत बी.एड. कॉलेज के नाम सवा 3 बीघा और 3 बिस्वा जमीन होना अनिवार्य है। यह केवल बीoएडo कोर्स चलाने के लिए जरूरी है लेकिन यदि कॉलेज में डी.एल.एड. और एम.एड. कोर्स भी चल रहे हैं तो इनके पास 5 बीघा जमीन होनी चाहिए। इसके अलावा कॉलेज में कैंपस और 20,000 स्क्ववेयर फुट भवन होना जरूरी है। इसके साथ बी.एड. कॉलेज में शिक्षक व गैर-शिक्षक कर्मचारियों की संख्या लगभग 19 होनी चाहिए। इसके अलावा कॉलेज में लैब और रिसोर्स सैंटर होना भी अनिवार्य है। गौर हो कि प्रदेश में अभी 2 वर्ष का बी.एड. कोर्स ही करवाया जा रहा है। हालांकि कई राज्यों में इस दौरान 4 वर्ष के इंटेग्रेटिड कोर्स करवाए जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *