हरिपुर के पास पौंग डैम में तैरता मिला दो दिन पहले डूबे हुए मछुआरे का शव

बीते बुधवार को पौंग झील में मछली पकड़ने के दौरान एक मछुआरा डूब गया था जिस का शव झील में आज सुबह तैरता हुआ मिला। शव को एनडीआरएफ की टीम ने पानी से बाहर निकाला, एनडीआरएफ की टीम बुधवार से ही मछुआरे कि खोज में लगी थी ।

बुधवार की पूरी खबर पढ़ें

सूत्रों के अनुसार एनडीआरएफ की टीम ने अलग-अलग तरीके से उसे खोजने के 2 दिन तक प्रयास किए थे। गुरुवार को टीम ने झील में ओपीएम पाउडर डाला गया था, जिसके चलते शुक्रवार सुबह मछुआरे का शव झील में तैरता हुआ पाया गया। डीएसपी देहरा रणधीर सिंह ने बताया कि पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है व मछुआरे के शव को पोस्टमार्टम के लिए देहरा सरकारी अस्पताल भेज दिया गया है ।

पूर्व प्रधान ने प्रशासन से की आर्थिक मदद व लाइफ सेफ्टी जैकेट की मांग

स्थानीय पंचायत के पूर्व प्रधान रणजीत सिंह ने कहा कि मृत मछुआरा दिलबाग सिंह गरीब परिवार से संबंध रखता था। उसकी दो बेटियां व एक बेटा है। पूर्व प्रधान ने प्रशासन से पीड़ित परिवार के लिए जल्द से जल्द आर्थिक सहायता की मांग प्रशासन से की है।

उन्होंने मत्स्य विभाग से पौंग झील में काम करने वाले अन्य मछुआरों की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए उन्हें लाइफ सेफ्टी जैकेट व अन्य जरूरी सामान मुहैय्या करवाने की भी मांग की, ताकि ऐसा हादसा पुनः ना हो सके।

Related Posts