हिमाचल प्रदेश में बंद हो जायेंगे कम विद्यार्थीयों वाले सरकारी स्कूल, सरकार ने शुरू की तैयारी

Himachal Pradesh will be closed with less students

Himachal Pradesh will be closed with less students

हिमाचल सरकार कम बच्चों वाले स्कूलों को बंद करने की तैयारी कर रही है। इस के लिए सरकार ने प्रारंभिक शिक्षा विभाग से 10 से 20 बच्चों वाले सरकारी स्कूलों का रिकॉर्ड भी बना लिया है। रिकॉर्ड बनने के बाद सरकार इस मामले को कैबिनेट में लेकर जाएगी। इससे पहले भी सरकार ने विभाग से 10 से कम छात्रों वाले स्कूलों कि सूची तैयार की थी लेकिन इस पर कोई भी फैसला नहीं लिया गया था। अब एक बार फिर हिमाचल सरकार ने विभाग से 20 और इससे कम छात्रों वाले स्कूलों का रिकॉर्ड मांगा है।

शिक्षा विभाग को प्रदेश के किस जिला में कितने शिक्षक सरप्लस, इस बात की देनी होगी जानकारी

शिक्षा विभाग हिमाचल सरकार को यह जानकारी देगा कि कम बच्चों वाले स्कूलों में कितने स्कूलों में कितने शिक्षक हैं? साथ ही दूसरे स्कूलों से ये स्कूल कितनी दूरी पर हैं? इनमें पढ़ रहे छात्रों की संख्या कितनी है? इसके अतिरिक्त एक साल पहले इन स्कूलों में छात्रों की संख्या कितनी थी? सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार तो राज्य सरकार 10 से 20 विद्यार्थी वाले स्कूलों को बंद करने कि तैयारी में है। इसके साथ ही प्रदेश के किस जिला में कितने शिक्षक सरप्लस हैं, ये रिकॉर्ड भी सरकार ने शिक्षा विभाग से मांगा है।

प्रदेश के 400 स्कूलों में हैं कम छात्र, शिमला, चम्बा, कुल्लू, सिरमौर व सोलन में छात्रों कि संख्या कम

शिक्षा विभाग से मिली जानकारी के अनुसार राज्य में 400 स्कूल ऐसे हैं, जहां पर छात्रों की बहुत संख्या कम है। रिकॉर्ड से पता चला है कि ये स्कूल मिडल और प्राइमरी हैं। ये भी जानकारी मिली है कि प्राइमरी स्कूलों में छात्रों की संख्या बहुत कम है। हिमाचल के कुछ जिलों जैसे कि शिमला, चम्बा, कुल्लू, सिरमौर व सोलन सहित कई जिला के स्कूलों में छात्रों की संख्या कम है। सरकार ने इस दौरान प्राइमरी स्कूलों में छात्रों की इनरोलमैंट को लेकर प्री-नर्सरी कक्षाएं शुरू की लेकिन कई स्कूलों में इससे भी इनरोलमैंट नहीं बढ़ सकी। जिसके चलते हिमाचल सरकार कुछ स्कूलों को बंद करने कि तैयारी में लगी है।