पांवटा-गुम्मा-पीटसपुल और हमीरपुर-मंडी वाया सरकाघाट दोनों नेशनल हाईवे होंगे डबल लेन

Paonta-Gumma-Petaspul Hamirpur-Mandi via Sarkaghat double lanes

Paonta-Gumma-Petaspul Hamirpur-Mandi via Sarkaghat double lanes

हिमाचल प्रदेश के दो नेशनल हाईवे पांवटा-गुम्मा-पीटसपुल और हमीरपुर-मंडी वाया सरकाघाट को केंद्र सरकार ने ग्रीन हाईवे प्रोजेक्ट के तहत डबल लेन बनाने की मंजूरी दे दी है।

दरसल ये दोनों प्रोजेक्ट्स की सिफारिश वर्ष 2010 में राज्य सरकार ने केंद्र के समक्ष पेश की थी, तब से ये दोनों प्रोजेक्टस लटके पड़े थे, हालांकि वर्ष 2012 में प्रदेश सरकार ने इस मामले को केंद्र से फिर से उठाया था । तभी से इन की रिपोर्ट्स पर काम हो रहा था और अब अंत में जाकर इन दोनों प्रोजेक्टों को मंजूरी मिली है |

सूत्रों की मानें तो डबललेन के लिए आस-पास के 24 मीटर जमीन का अधिग्रहण होगा। यहां पर हम आप को बता दें कि पांवटा-गुम्मा-पीटसपुल एनएच लगभग 105 किलोमीटर लम्बा है, जबकि हमीरपुर-मंडी वाया सरकाघाट एनएच की दूरी 126 किलोमीटर है।

केंद्र ने जारी किये लगभग 2600 करोड़ रुपये

एनएच के चीफ इंजीनियर भुवन शर्मा ने कहा है कि हिमाचल प्रदेश के दो बड़े प्रोजेक्ट स्वीकृत हुए हैं व इन्हें ग्रीन हाईवे प्रोजेक्ट का नाम दिया गया है। इन दोनों प्रोजेक्टों के लिए केंद्र ने लगभग 2600 करोड़ रुपये की राशि जारी की है। प्रोजेक्ट्स को शुरू करने के लिए जल्दी ही नेशनल हाईवे जल्द ही ग्लोबल टेंडर आमंत्रित करेगा।

इससे सिरमौर, मंडी, हमीरपुर, सोलन आदि जिलों के लाखों लोगों को फायदा होगा। इस के साथ साथ पर्यटन की दृष्टि से भी ये हाईवे बहुत कारगर साबित होंगे।