मरीज को अस्पताल लेकर जा रही 108 एंबुलेंस में अचानक भड़की आग, कर्मचारियों ने मरीज को निकाला बाहर

sudden fire broke out in 108 ambulances taking the patient to the hospital

sudden fire broke out in 108 ambulances taking the patient to the hospital

हिमाचल प्रदेश के चम्बा में मरीज को अस्पताल लेकर जा रही 108 एंबुलेंस में अचानक से आग भड़क गई। कर्मचारियों ने स्फूर्ति दिखाते हुए एंबुलेंस से मरीज को एकदम से बाहर निकाला। एम्बुलेंस की जिस वायरिंग में आग लगी थी, चालक ने उसे जल्दी से काट दिया।

चालक की इस समझदारी से आग पूरी गाड़ी में नहीं फैली जिस वजह से बड़ा हादसा होने से टल गया।जैसे ही एंबुलेंस से धुआं निकलने लगा उसे देखकर लोगों की भीड़ वंहा जमा हो गई। जैसे ही धुआं निकलना बंद हुआ तो यही एंबुलेंस ने मरीज को अस्पताल पहुंचाया।

चंबा के दियोली से महिला मरीज को लेकर अस्पताल आ रही थी 108 एंबुलेंस, अचानक से हुआ ये हादसा

मिली जानकारी के अनुसार शनिवार को चंबा के अस्पताल की 108 एंबुलेंस दियोली से महिला मरीज को लेकर अस्पताल आ ही रही थी कि पुराने बस अड्डे के समीप एंबुलेंस में आग लग गई। पहले तो चालक को कुछ समझ नहीं आया पर चालक ने अपनी स्फूर्ति दिखाते हुए शार्ट-सर्किट से आग पकड़ने वाली वायरिंग को एकदम से काट दिया और जैसे ही धुआं बंद हुआ, इसके बाद मरीज को जल्दी से अस्पताल पहुंचाया।

हादसे में कोई जानमाल का नुकसान नहीं हुआ है। मिली जानकारी के अनुसार सड़क मार्ग खराब होने के कारण चंबा में चलने वाली ज्यादातर एंबुलेंस पुरानी और खटारा प्रकार की हो गई हैं।

18 एंबुलेंस में से केवल 12 एंबुलेंस ही मरीजों को लाने ले जाने का कर रही काम

अब ये सरकारी एंबुलेंस चलने की हालत में नहीं हैं। प्रसाशन ये सब जानने के बाद भी इन वाहनों में मरीजों को ले जाने और छोड़ने पर मजबूर है। चम्बा जिले के कुछ उप मंडलों में सरकार ने 18 एंबुलेंस दी हैं। इस समय में छह गाड़ियां सड़क किनारे हैं। केवल 12 एंबुलेंस ही मरीजों को लाने ले जाने का काम कर रही हैं।

जिनमे से सिर्फ दो एंबुलेंस ही नई हैं। मिली जानकारी के अनुसार 108 एंबुलेंस के जिला प्रभारी शैलेंद्र मेठानी ने कहा है कि कंपनी ने नई गाड़ियों के लिए प्रस्ताव सरकार को भेजा है। जल्दी ही नई गाड़ियां आने की उम्मीद भी है।

ये भी पढ़ें: