ग्राम पंचायत प्रधानों की धांधली आयी सामने, गैरकानूनी तरीके से निकाले बैंक से पैसे तो कहीं मजदूरों के भुगतान में गड़बड़ी

हिमाचल प्रदेश के सोलन, हमीरपुर, शिमला और ऊना जिलों की चार ग्राम पंचायतों की ऑडिट (Audit Report) में प्रधानों की धांधली आयी सामने, गैरकानूनी तरीके से निकाले बैंक से पैसे तो कहीं मजदूरों के भुगतान में गड़बड़ी का मामला सामने आया है ।

धांधली इतने बड़े स्केल पर है कि कहीं ग्राम पंचायत प्रधान ने बैंक से लाखों पैसे गैरकानूनी तरीके (Illegal methods) से निकाल लिए, तो कहीं बिना किसी कारण व् दस्तावेजों को पूरा किए बगैर ही लाखों रुपये की खरीदारी भी कर डाली।

  1. हमीरपुर के नादौन की ग्राम पंचायत जलाड़ी के प्रधान और पंचायत सचिव (Panchayat Secretary) ने नकली फार्मो और मजदूरों का भुगतान करने के लिए अपने नाम से चेक से पैसे निकाले ।
  2. शिमला के विकास खंड कुपवी की ग्राम पंचायत कंडा बनाह में बिना किसी Documentations पूरा किए बिना ही 20.61 लाख की खरीदारी कर डाली।
  3. ऊना के विकास खंड हरोली की ग्राम पंचायत सलोह में 2 लाख से ऊपर रुपयों की निर्माण सामग्री (Construction material) खरीद डाली। जिससे कि उचित बिल तक पेश नहीं किए गए, सिर्फ कोरे कागज पर बिल बना दिए बाद में उन्हीं के आधार पर बिलों का भुगतान (Pay the bills) भी कर दिया गया ।