लगातार बारिश किसानों के लिए बनी आफत, आलू की फसल बर्बाद

Failure for farmers due to continuous rains, potato crop ruined

Failure for farmers due to continuous rains, potato crop ruined

हिमाचल के ऊना जिले में लगातार हो रही बारिश की वजह से किसान बहुत परेशान दिख रहे हैं। इस बारिश की वजह से किसानों को लाखों रुपये का नुकसान हो गया है। लगातार बारिश की वजह से किसानों के खेतों में पानी भर गया है।

ढाई सौ हेक्टेयर भूमि में आलू की फसल हुयी बर्बाद, किसानों को हुआ लाखों का नुकसान

आलू की फसल को बारिश ने बहुत ज्यादा प्रवाभित किया है। जिसके चलते किसानों को लाखों का नुकसान हुआ है। ऊना जिला में लगभग ढाई सौ हेक्टेयर भूमि में आलू की फसल की बिजाई किसानों द्वारा एक साल में दो बार की जाती है। जिस से हर वर्ष 30 हजार मिट्रिक टन आलू की पैदावार होती है। जिला में खराब मौसम के कारण किसानों को लाखों रुपये का नुकसान हुआ है।

फसल का नुकसान होने पर पटवारी, कृषि विभाग व इंश्योरेंस कंपनी की टीम मौके पर निरीक्षण करने के बाद रिपोर्ट बनाती है

जिन किसानों के आलू की फसल को नुकसान हुआ है और उन किसानों ने फसल की इंश्योरेंस करवाई है तो किसान नुकसान के मुआवजे की राशि ले सकते हैं। किसानों को 150 रुपये प्रति कनाल इंश्योरेंस पर 3,000 रुपये की मुआवजा राशि मिलेगी। फसल का नुकसान होने पर पटवारी, कृषि विभाग व इंश्योरेंस कंपनी की टीम मौके पर निरीक्षण करने के बाद रिपोर्ट बनाती है और किसानों को मुआवजा दिलाया जाता है।

बारिश होने से हरोली क्षेत्र की सभी खड्डें उफान पर, जिला वासियों को रात के समय ठंड महसूस होनी शुरू

ऊना जिला में ज्यादा बारिश होने से हरोली क्षेत्र की सभी खड्डें उफान पर हैं। इससे यात्रियों को अपने स्थायी स्थान तक पहुंचने के लिए करीब दो से ढाई घंटे देरी का सामना करना पड़ रहा है। बारिश होने से जिले के तापमान में भी काफी गिरावट आ गई है, जिला वासियों को रात के समय अब ठंड महसूस होनी शुरू हो गई है।