अर्जुन गुफ़ा महाभारत की कथा से जुड़ा हुआ धार्मिक स्थान, Arjun Gufa (Manali) a religious place in Hindi

हिमाचल प्रदेश के कुलु जिले के लोकप्रिय स्थान मनाली से 22 किलोमीटर की दुरी में स्तिथ है। यह मंदिर कुल्लू से 24 किलोमीटर और प्रिंसी गांव से इस स्थान 11 किलोमीटर की दुरी पर स्तिथ है। यह मनाली के प्रशिद्ध स्थान नग्गर की और स्तिथ है। यह स्थान व्यास नदी के किनारे स्तिथ है। अर्जुन गुफ़ा का निकटतम गाँव प्रिंसी है। यह गाँव काफी हद तक अपनी प्राकृतिक सुंदरता और अपने प्राकृतिक सौंदर्य के लिए जाने जाते है।

Arjun_Gufa_8900

अर्जुन गुफ़ा क्षेत्र सैलानियों के आकर्षण का केंद्र बन गया है। यह स्थान महाभारत की कथा से जुड़ा हुआ है। हर साल यहां बहुत से पर्टयक दर्शन के लिए आते है। पौराणिक कथा के अनुसार अर्जुन की भक्ति से प्रभावित होकर भगवान इंद्र ने उन्हें सबसे शक्तिशाली हथियार पशुपत अस्त्र दिया। यह स्थान मनाली के सबसे उल्लेखनीय पर्यटन स्थलों में से एक है। पहाड़ियों और घाटियों के आश्चर्यजनक दृश्यों को अर्जुन गुफ़ा से आधे दिन के भ्रमण के लिए देखा जा सकता है। गुफा अपनी प्राकृतिक सुंदरता और भव्यता की बजह से यह स्थान पर्टयकों का लोकप्रिय स्थान बन चूका है।

Arjun_Gufa_8901

एक रहस्य्मय और विचित्र गुफा, A mysterious and bizarre cave

अर्जुन गुफ़ा की आने के लिए सबसे सही समय अप्रैल से जून और सितंबर से अक्टूबर के बिच का है। इस दौरान बहुत से पर्टयक यहां गुमने के लिए आते है। अर्जुन गुफा एक पहाड़ी में एक संकीर्ण रास्ता है। इस स्थान में पर्टयकों को फ्लैशलाइट का उपयोग करके अंधेरे में गुफा में अपना रास्ता खोजना और ढूंढना पड़ता है। पूरी गुफा का पता लगाने में लगभग 40 मिनट लगते हैं। यहां के लिए रास्ता हरे भरे घास के मैदान और ऊंचे देवदार के पेड़ों और सीमेंट की सीढ़ियों से होकर गुजरता है जो इस स्थान को एक आकर्षित बनाते है। यह स्थान बहुत ही रोमांचित और लोकप्रिय है। अगर आप कभी मनाली का प्लान करो तो इस स्थान में आना ना भूले। और अपने मनाली ट्रिप को और ज्यादा यादगार बनाये।

Related Posts