भारी बर्फबारी के दौरान बंद हुए लाहौल स्पीति के सभी रास्ते, Road Closed in Lahaul Spiti after heavy Snowfall

भारी बर्फबारी (Snowfall In Himachal) के दौरान बंद हुए लाहौल स्पीति के सभी रास्ते,  मौसम ने ली करवट रोहतांग पास के साथ-साथ रोहतांग सुरंग Rohtang Tunnel का रास्ता भी बंद हो गया है | मौसम विभाग के अनुसार यदि BRO रोहतांग बहाल नहीं करता तो लाहौल के निवासी 6 महीनो के लिए लिए बर्फ में कैद हो जायगे। बताया जा रहा है की मौसम के बिगड़ते हुए हालात को देख कर यदि बीआरओ रोहतांग बहाल नहीं करता है, तो लोगो को बहुत सी मुस्किलो का सामना करना पड़ सकता है।

25 और 26 नवम्बर को भारी वर्षा और बर्फभारी के आसार

हिमाचल प्रदश मनाली- मौसम के इस बदलते रूप को डेक के मौसम विभाग द्वारा यह जताया गया है की 25 और 26 को भा मात्रा में बर्फबारी और वर्षा हो सकती है। मनाली से कुछ दुरी पर स्तिथ रोहतांग में अभी तक दर्रे में चार फीट से अधिक बर्फ जमा हो चुकी है। इस दौरान बीआरओ ने अपने रिपोर्ट में कहा की रोहतांग को बहाल नहीं किया जा सकता। यदि बीआरओ द्वारा रास्ता भाल नहीं किया जाता है। तो इ दौरान लाहौलियों को बहुत सी मुश्किलों का सामना करना पढ़ सकता है। इस दौरान यातायात का केवल एक ही साधन रह जाता है। जो इनके हवाई यात्रा है। हवाई यात्रा भी मौसम पर निर्भर रहती है। ग्रैब मौसम के दौरान हवाई यात्रा भी सम्भव् नहीं है।

बीआरओ रोहतांग द्वारा लिखित तौर पर दी एसडीएम रमन घरसंगी को जसनकारी

बीआरओ रोहतांग दर्रे Rohtang Pass में हो रहे कंकरीट कार्य में भी लगी सेवाएं बंद करने जा रहा है। और अगर असा होता है तो निवासी सर्दीयो में लाहौल घाटी में बंद हो के रह जायँगे। हालांकि लोग 30 नवंबर तक सुरंग से आने जाने की बात कर रहे है। बीआरओ की माने तो वह कल से ही कंकरीट का कार्य शुरू करने जा रहा है। अगर बीआरओ लोगों के आग्रह को नहीं मानता है तो आज बस सेवा का भी आखिरी दिन होगा जिस से लाहौल में रह रहे निवासी का सड़क सम्पर्क हिमाचल से पूरी तरह से खत्म हो जायेगा।

मनाली- एसडीएम रमन घरसंगी ने बताया की बीआरओ के द्वारा लिखित तौर पर आज ही सुरंग से वाहनों की आवाजाही की बात कही है। उन्होंने बताया बीआरओ के निर्देशानुसार कल से कोई वाहन रोहतांग सुरंग होकर नहीं जाएगा। इस दौरान निवासियों का हवाई यात्रा एक मात्र सहारा होगी।