बारिश होने से काँगड़ा जिले के किसानों के चेहरों पर आई मुस्कान

हिमाचल प्रदेश कांगड़ा के पालमपुर जिले में बुधवार रात से हो रही बारिश के कारण किसानों के चेहरों पर मुस्कान आ गई हैं। यह बारिश गेहूं के साथ-साथ अन्य सब्जियों के लिए भी फायदेमंद आंकी गई है। खासतौर पर चंगर क्षेत्र में हुई यह बारिश किसानों के लिए बहुत फायदेमन्द मानी जा रही है। यह बारिश गेहूं के जल्द उगने में सहायता करेगी। इसके साथ ही बारिश से इलाके में ठंड भी बढ़ रही है, जबकि पालमपुर के साथ लगती धौलाधार पर्वत की चोटियां बर्फ से Glittering हो गई हैं।

बारिश से चंगर क्षेत्र के किसानों के चेहरों पर मुस्कान आई

चंगर के क्षेत्र में लोगों ने गेहूं की फसल को बीज तो दिया था। परन्तु पानी का कोई साधन न होने के कारण यह फसल अभी बहुत धीमी गति से उगने लगी थी। परन्तु यह बारिश फसल के तेजी से उगने में सहायक होगी। इस बारिश से खासकर चंगर क्षेत्र के किसानों के चेहरों पर मुस्कान आई हैं। गेहूं की फसल के साथ-साथ यह बारिश अन्य बीजी गई सब्जियों जैसे कि बरसीम व मखमली घास के लिए भी फायदेमन्द है। दूसरी तरफ पलम क्षेत्र में हुई बारिश से अभी बीजी गई गेहूं की फसल के लिए किसानों को सिंचाई करने कि जरूरत नहीं पड़ेगी।

 गेहूं की खेती के लिए सामान्य बारिश से अधिक हुई बारिश  : कृषि विभाग

किसान चौधरी चुनी लाल, रवि राणा, छोटू राम, किशोरी लाल, शोभन, पिंकु, उत्तम गोस्वामी, संजय कुमार, प्रदीप कुमार, राज कुमार सहित कई अन्य किसानों का मानना है कि यह बारिश गेहूं व अन्य सब्जियों के लिए अच्छी हुई है। कृषि विभाग के अनुसार तो यह बारिश गेहूं की खेती के लिए सामान्य बारिश से अधिक हुई है।

कृषि विभाग के उपनिदेशक डॉक्टर एनके धीमान का मानना है कि जिले में हुई यह बारिश गेहूं की फसल के लिए बहुत ही लाभदायक है। उनके अनुसार खास कर चंगर क्षेत्र के लोगों को इस बारिश का बहुत लाभ होगा।