बारालाचा दर्रा हिमाचल में प्रसिद्ध 8 किलोमीटर लंबा दर्रा, Baralacha Pass in Hindi

हिमाचल प्रदेश के लाहौल में स्तिथ यह दर्रा लाहौल जिले को जम्मू और कश्मीर को लद्दाख से जोड़ता है। यह एक नहुत बड़ा और लोकप्रिय स्थान है। जो बहुत ही खुबसूरत और प्रयटकों के आकर्षण का केंद्र है। इस दर्रे को बारालाचा पास के नाम से भी जाना जाता है।यह प्रसिद्ध दर्रा यह लेह-मानगढ़ राजमार्ग के साथ स्थित है। यहां एक बहुत ही लोकप्रिय झील सूरजताल भी स्तिथ है। जिस से भागा नदी निकलते है। जो चिनाव नदी की सहायक नदी है।

यह बारालाचा दर्रा पुरे देश विदेश में अपने प्राकृतिक सौंदर्य और उच्च श्रेणी के पहाड़ो के लिए जाना जाता है। इस स्थान में बहुत से आकर्षण के केंद्र है।

Baralacha_Pass02

बर्फ से ढके ऊँचे-ऊँचे पहाड़ो का मनमोहक दृश्य, Adorable view of snow capped high mountains

यह दर्रा पुरी तरह से प्राकृतिक दृश्यों और बर्फ से ढके ऊँचे ऊँचे पहाड़ो के लिए जाना जाता है। हिमाचल प्रदेश में स्तिथ यह बारलाचा दर्रा का उल्लेख रुडयार्ड किपलिंग के प्रसिद्ध उपन्यास किम में भी मिलता है। बारालाचा ला की यात्रा यहां आये पर्टयकों को एक अलग ही दुनिया में ला देती है। यहां के दृश्य बेहद लुहावने हैं जो सैलानियों को बर्फ से ढके पहाड़ो के सौंदर्य से भरपूर है। इस स्थान में कोई भी होटल और ना ही कोई दुकान स्तिथ है। इस के बाबजूद यहां की बंजर भूमि बेहद आश्चर्यजनक लगती है। जो बेहद आकर्षित दृश्य प्रदान करता है।

Baralacha_La03

बारालाचा दर्रा में बन रही 13 किमी लंबी सुरंग, 13 km long tunnel being built in Baralacha Pass

इस प्रसिद्ध बारालाचा दर्रा के नीचे से भी सुरंग बनाने की तैयारी हो रहे है। रोहतांग टनल के बाद रक्षा मंत्रालय अब मनाली-लेह सामरिक मार्ग में आने वाले इस दर्रे में 16 हजार फिट सुरंग बनेगी। जिस की लम्बाई लगभग 13 किलोमीटर होंगी। सर्दियों के समय में भारी बर्फबारी के कारण मनाली-लेह मार्ग करीब छह महीने तक बंद हो जाता है। ऐसे में इस दौरान लद्दाख में सेना की रसद सप्लाई हवाई सेवा से ही संभव हो पाती है। इसी बजह से यहां यह सुरंग बंनाना बहुत ही जरूरी है।

बारालाचा दर्रा में सुरंग बनने से मनाली-लेह मार्ग की दूरी घटने से सेना को बॉर्डर तक पहुंचने में बेहद कम समय लगेगा। कारगिल तक पहुंचने के लिए शिंकुला दर्रा में भी करीब तीन किमी लंबी सुरंग बनाने की योजना है।

Baralacha_La_Pass04

बारालाचा दर्रा आने का सही समय, Best time to visit Baralacha Pass

बारालाचा दर्रा ज्यादा तर गर्मियों में ही खुला रहता है। सर्दियों में यहां भारी बर्फबारी की बजह से यह दर्रा बंद हो जाता है। यहां का दौरा करने का सबसे सही समय मई से अक्टूबर के बीच का होता है क्योंकि इन महीनों के दौरान मौसम सुहावना और गर्म होता है। यह दर्रा ट्रेकिंग और बाइक की सवारी के लिए बहुत लोकप्रिय है।

गर्मियों के समय में यहां सड़के साफ होती है। और बहुत से लोग यहां की यात्रा के लिए आते है। यदि आप भी हिमाचल प्रदेश आने का प्लान बना रहे है तो इस स्थान में आना ना भूले। यह स्थान आप को पहाड़ो के बिच ले जायगा। जिस से आप एक राज्य से दूसरे राज्य में पहुंच सकते है। और राइडिंग का आंनद ले सकते है।