मंडी जिले में स्तिथ “आदी पुर्खा मंदिर” हिन्दुओ का धार्मिक स्थान, Dev Aadi Brahma Temple – Aadi Purkha Temple in Mandi district of Himachal Pradesh

Aadi_Purkha_Temple(2)

यह पवित्र स्थान हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले में तिहरी उत्तरसल में स्तिथ है। मंडी जिले का यह मंदिर जो आदी पुर्खा के नाम से विख्यात है। यह मंदिर भगवान श्री ब्रह्मा को समर्पित एक धार्मिक स्थान है। यह मंडी गुमने आये सैलानियों का लोकप्रिय स्थान है। यह मंदिर तिहारी गांव में पराशर हिल में स्थित है। दिन के समय में पराशर पहाड़ी के ऊपर के बाकी घर तिहारी गांव से स्पष्ट रूप से देखे जा सकते है। यहां का नजारा बहुत ही प्यारा और अच्छा होता है। यहां के लोगो की यह मान्यता है की तिहारी और खोखन गांव कुल्लू रियासत से संबंदित थे।

खोखन ब्रह्मा की होती हैं पूजा, Khokhan Brahma is worshiped

दोनों गांवों के मूल निवासी पूरी श्रद्धा के साथ खोखन ब्रह्मा की पूजा करते थे। माना जाता है की मंडी और कुल्लू के बीच एक क्षेत्रीय विवाद उत्पन्न हुआ था। जिसके परिमाण स्वरूप इन दो गांवों को अलग किया गया। तिहारी गांव के मूल निवासी ने आदी ब्रह्मा मंदिर को अपने अंडर रखने का फैसला किया और उन्होंने इसे आदी पुर्खा मंदिर नाम दिया। हर साल बहुत से श्रदालु यहां दर्शन के लिए आते है।

Aadi_Purkha_Temple

कहा जाता है की जब दोनों गावो को अलग किया गया था। इस खोखान मंदिर में स्तिथ कुछ मूर्तियों और छवियों को तिहारी मंदिर में स्थानांतरित कर दिया गया था। माना जाता है, की स्थापना के समय इस मंदिर को तिहारी उत्तराल के आदी पुर्खा मंदिर के रूप में नामित करने का निर्णय लिया गया था।

आदी ब्रह्मा कुल्लू दशहरे में लेते है भाग, Aadi Brahma Kullu participates in Dussehra

इस मंदिर का निर्माण पगोडा संरचना आदि पुर्खा तीन स्तरों और पूरी संरचना के औपचारिक सद्भाव की अपनी प्रबल और अच्छी तरह से इरादा व्यवस्था के लिए दिलचस्प है। आदी ब्रह्मा जी को कुल्लू दशहरा महोत्सव में भाग लेते हैं। जहां आदी पुर्खा चुहर घाटी से पश्कोट और हुरंग नारायण देवताओं के साथ मंडी शिवरात्रि में भाग लेते है। हर साल बहुत से श्रदालु यहां गुमने के लिए आते है।

Aadi_Purkha_Temple(3)

यह मंदिर इतना पवित्र और धार्मिक है की जो भी यहां आता है। वो यहां यहां से खाली हाथ नहीं जाता आप भी यहां दर्शन के लिए आये और इस धार्मिक स्थान में मौजूद प्राकृतिक सौंदर्य का आनंद ले।