हिमाचल प्रदेश में स्तिथ रिवर राफ्टिंग के लोकप्रिय स्थान, Popular places of river rafting in Himachal Pradesh

हिमाचल प्रदेश का अर्थ है हिम और आँचल जिस का मतलब है की बर्फ से भरा आँचल यहां बहुत से छोटी बड़ी जलधारए और नदिया बहती है जिनका दृश्य बहुत ही मनमोहित कर देने वाला होता है। हर साल बहुत से पर्टयक यहां गुमने के लिए आते है। हिमाचल की इन लोकप्रिय नदियों में रिवर राफ्टिंग जो एक साहसिक खेल है जो एडवेंचर प्रेमियों को अपने ओर आकर्षित करता है। सैलानियों का यह पसंदीदा खेल है। जो पानी में एक वोट के द्वारा किया जाता है।

क्या होती रिवर राफ्टिंग, What is river rafting

जल धराओ के साथ साथ नीचे की ओर बहते हुए आते है। राफ्टिंग खेल में नदियों की लहरों के साथ आगे बढ़ना होता है। यह खेल बहुत ही रोमांचित कर देने वाला है। सबसे अच्छी बात यह है कि आपको इसमें शामिल होने के लिए तैराकी विशेषज्ञ होने की आवश्यकता नहीं है। हिमाचल रिवर राफ्टिंग के लिए एक बहुत ही अच्छा ओर लोकप्रिय स्थान माना जाता है। यहां रिवर राफ्टिंग के बहुत से लोकप्रिय स्थान है।

rafting04

रिवर राफ्टिंग के रोमांचित स्थान, Thrilling places of river rafting

हिमाचल में स्तिथ पर्वतो में जब गर्मियों के दौरान बर्फ पड़ती है। उस की बजह से नदियों के जल का स्तर काफी बढ़ जाता है। ओर इसी दौरान राफ्टिंग के लिए बहुत से सैलानी आते है। यदि आप को भी प्रकृति से प्रेम है तो आप भी इस खेल का आनंद ले सकते है। यह खेल पूरी तरह से सुरक्षित खेल है। जिसे अनुभवी व्यक्तियों द्वारा करवाया जाता है। सभी वर्ग के लोग इस खेल का मज़ा ले सकते है। इन खेलो का आयोजन विभिन्न प्रकार के ट्रैवल एजेंट करवाते है।

हिमाचल में यह खेल कुल्लू शिमला मनाली चम्बा में स्पीति में लोकप्रिय है। आप कहि भी इस खेल का मज़ा ले सकते है। इस खेल में राफ्टिंग करने वाले पर्यटकों या सैलानी को एक रबर की नाव का प्रयोग करना होता है। और राफ्टिंग करने के लिए एक खास तरह का सूट पहनाया जाता है। इस सूट में हवा से भरे हुए फ्लोट लगे होते हैं। जिसकी वजह से यदि कोई भी व्यक्ति पानी में गिरता है तो सूट की मदद से पानी के ऊपर आ जाता है। यह सूट पर्टयक को डूबने से भी बचाता है।

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में स्तिथ रिवर राफ्टिंग का मज़ा, The fun of state river rafting in Shimla, the capital of Himachal Pradesh

सतलुज नदी हिमाचल में बहने वाली लोकप्रिय नदियों में से एक है। यह नदी हिमाचल में सबसे लम्बी ओर चुनौतीपूर्ण नदियों में से एक है। सतलुज नदी में राफ्टिंग तातापानी जो एक लोकप्रिय पर्टयक स्थान है। के आस पास के क्षेत्र में की करवाई जाते है। इस स्थान सल्फर स्प्रिंग्स से अपना नाम मिलता है। यह स्थान शिमला से लगभग 50 किलोमीटर की दूरी में स्तिथ है। इस स्थान में आने के लिए सैलानी कार या अन्य वहान से पहुंच सकते है।

rafting01

कहा से शुरू होती शिमला की रिवर राफ्टिंग और दुरी, River rafting and distance of Shimla starts from where

इस नदी में राफ्टिंग करना बहुत मज़ेदार और रोमांचक से भरपूर है। यहां के आकर्षक दृश्यों को देखने ओर इन की गहरायिओं में उतने के लिए मई और जून के बिच में शिमला की सैर कर सकते हैं। पर्यटक चब्बा 12 किलोमीटर से तत्तापानी 5 किलो मीटर तक रिवर राफ्टिंग का मजा ले सकते हैं। सतलुज नदी के ठंडे पानी में रिवर राफ्टिंग करना पर्यटकों को एक खास अनुभव प्रदान करता है। शिमला में रिवर राफ्टिंग करने का सही समय सितंबर,अक्टूबर और नवंबर इस खेल के लिए सबसे अच्छे महीने है।

 

हिमाचल प्रदेश के चम्बा जिले में रिवर राफ्टिंग एक रोमांचित सफर, River rafting a thrilling journey in Chamba district of Himachal Pradesh

चम्बा हिमाचल प्रदेश का एक बहुत ही लोकप्रिय ओर ऐतिहासिक जिला है। भारत चम्बा का सबसे लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। चम्बा में खूबसूरत जगह के पास कई पर्यटन स्थल हैं और आसपास के चंबा में घूमने के लिए और बाहरी साहसिक गतिविधियों या उच्च ऊंचाई वाले पहाड़ों, हरे-भरे जंगल, हरे-भरे झरने, या अद्वितीय परिदृश्य जैसे मनोरंजक खेलों का पता लगाने के लिए एक बहुत ही अच्छा स्थान है।

rafting09

चंबा में सबसे अच्छी आउटडोर गतिविधियों में से कुछ नाव की सवारी, ट्रेकिंग, जलीय खेल, पैराग्लाइडिंग, आदि हैं चंबा में मनोरंजन गतिविधियाँ चंबा में विभिन्न चम्बा साहसिक खेलों और लोकप्रिय चीजों का संग्रह है। चम्बा में रिवर राफ्टिंग खेलों के लिए एक लोकप्रिय स्थान है।चम्बा में राफ्टिंग रावी और साला नदी में किया जा सकता है।

चम्बा आने का सही समय और अन्य जानकारी, Best time to visit Chamba and other information

यहां आने का सही समय जून और अक्टूबर के महीनों के बीच का है। चंबा में रिवर राफ्टिंग का मजा लेने के लिए पर्यटक सरकारी या निजी टूर ऑपरेटरों से संपर्क कर सकते हैं। यहां आने के लिए आप ऑनलाइन भी अपनी बुकिंग करवा सकते हो। ओर यहां राफ्टिंग का आनंद ले सकते हो चम्बा में ओर भी बहुत से लोकप्रिय पर्टयक स्थान है जहा आप अपना समय व्यतीत कर सकते है। चम्बा आने का सही समय मार्च से जून सबसे अच्छा समय है। अगर आप बर्फ प्रेमि है तो आप के लिए यहां आने का सही समय दिसंबर है। इस दौरान आप बर्फ से खेल सकते हो। ओर चम्बा घाटी को निहार सकते हो।

rafting10

हिमाचल के लाहौल स्पीति में रिवर राफ्टिंग का आनंद, The joy of river rafting in Lahaul Spiti Himachal

हिमाचल प्रदेश के उच्च हिमालय में बसा जिला लाहौल स्पीति में भी बहुत से पर्टयक स्थान है। लाहौल अपने वातावरण ओर प्रकृति के सौंदर्य के लिए जाना जाता है। लाहौल स्पीती में बहुत से आकर्षण के केंद्र है। जहां हर साल बहुत से सैलानी गुमने ओर प्रकृति के बिच अपना समय व्यतीत करने के लिये आते है। लाहौल स्पीति की घाटी में 1000 साल पुराने बौद्ध मठ स्तिथ है। जो यहां आये सैलानियों को बेहद आकर्षित ओर सौंदर्य से भरपूर दृश्य प्रदान करता है। लाहौल स्पीति में लाहौल में चंद्रभागा (चिनाब) में राफ्टिंग की जाती है।

rafting08

भारत में स्तिथ सबसे ऊंचाई में रिवर राफ्टिंग का मज़ा, The highest altitude river rafting in India

यह क्षेत्र बाकी दुनिया से ज्यादा साल तक कटा रहता है। जिस का कारण यहां पड़ने वाली बर्फ है। घाटियाँ हिमनद, उच्च लकीरें, चौड़ी घाटियाँ, चरागाहों को घेरती हैं और इनकी न्यूनतम ऊँचाई 3000 मीटर से अधिक होती है। लाहौल स्पीति में ऊँची ठंड के रेगिस्तान का अधिक हिस्सा है। यह जिला हिमालय की पूरी चौड़ाई को तिब्बती पठार के किनारे तक फैलाता है। हिमाचल के लाहौल स्पीति में रिवर राफ्टिंग करना आपकी जिंदगी को एक शानदार अनुभव प्रदान करेगा।

rafting07

स्पीति नदी हिमाचल प्रदेश में रिवर राफ्टिंग करने की सबसे अच्छी जगहों में से एक है। यहां राफ्टिंग स्पीति नदी में की जाती हैं। स्पीति के स्थानीय गांवों की झलक यहां का कल्चर बर्फ से ढके ग्लेशियर और वातावरण आपकी राफ्टिंग को बेहद रोमांचित ओर यादगार बना देंगे।

यहां आने का सही समय, Right time to come here

यहां राफ्टिंग ट्यूटिंग क्षेत्र से शुरू होती है और पासीघाट को कवर करती है जिसका समापन बिंदु सूमो है। यहां जाने का सबसे अच्छा समय जुलाई और अगस्त के महीनों में है। इस दौरान यहां आना सम्भव होता है। सर्दियों में सभी रास्ते ओर बर्फबारी की बजह से यहा का तापमान बहुत ठण्डा रहता है। यदि आप को भी लाहौल स्पीति की घाटी में राफ्टिंग का आनंद लेना है तो आप यहां आ के राफ्टिंग का मज़ा ले सकते है। ओर यहां के वातावरण में अपने आप को प्रकृति के नजदीक पा सकते हो।

देव भूमि कुल्लू में ब्यास नदी नाली में रिवर राफ्टिंग का आंनद, River rafting in Beas river drain in Dev Bhoomi Kullu

कुल्लू हिमाचल प्रदेश स्तिथ एक लोकप्रिय स्थान है। हिमाचल में सबसे अधिक पर्टयन स्थान इसी जिले में है। इसी लिए हर साल भारी मात्रा में पर्टयकों की भीड़ लगी रहती है। कुल्लू जिले में बहुत से रोमांचित खेलो का आयोजन होता है। जिनमे से एक रिवर राफ्टिंग भी एक लोकप्रिय साहसिक खेल है। यह राफ्टिंग व्यास नदी में होती है। ब्यास नदी की एक सुरक्षित स्थान है। यह स्थान नवीनतम आयातित उपकरणों के साथ संयुक्त है। जो पूरी तरह से शुरक्षित है।

rafting05

भारत में स्तिथ सबसे लम्बी रिवर राफ्टिंग, Longest river rafting in India

यहां आप अनुभवी ट्रेनर के साथ रिवर राफ्टिंग की सवारी का आनंद ले सकते हैं। यहां की राफ्टिंग आप को कुलु जिले के बहुत से आकर्षित दृश्य प्रदान करता है। यहां की राफ्टिंग का समय ओर दुरी 14 किमी की है। जो लगभग 1h 20 मिनट की है। राफ्टिंग के दौरान आप को विभिन्न उपकरण जैसे वाट्सएप, लाइफ जैकेट, हेलमेट और पैडल से सुरक्षित किया जाता है। आप की राफ्टिंग ब्यास नदी पर झिरी में समाप्त होती है। इस दौरान आप को मार्ग में साराबाई, भुंतर बाजौरा, और शमशी, मोहाल, रायसोल और कट्रेन की अद्भुत दृश्य देखने को मिलेंगे। यहां पर्वतारोहण, ट्रैकिंग और स्कीइंग का अनुभव लेने के इच्छुक सैलानियों के लिए एक बेहतर स्थान माना जाता है।

rafting06

गुमने और समय व्यतीत करने के लिए एक आदर्श स्थान, An ideal place to get lost and spend time

यहां आने का सही समय वैसे तो पुरे साल का हैं। मगर बरसात ओर सर्दियों में यहां आना थोड़ा सा तकलीफ भरा हो सकता है। यहां आने का सही समय गर्मियों के दौरान का ही है। इस दौरान यहां का मौसम काफी सुख दायक होता है। ओर शीतल हवाएं चलती है। जो यहां आये पतयको के लिए किसी सपने से काम नहीं है। आप भी यदि हिमाचल आने का प्लान बना रहे है तो कुल्लू मनाली जाना ना भूले यहां बहुत से लोकप्रिय पर्टयक स्थान है। जहां आप अपने घर वालो ओर दोस्तों के साथ अपना समय व्यतीत कर सकते हो।