हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले में स्तिथ ब्यास नदी “पंडोह बांध”, Beas River “Pandoh Dam” in Mandi District

_Pandoh_Dam

हिमाचल प्रदेश में स्तिथ पंडोह बांध ब्यास नदी पर बनाया गया है, हिमाचल में बहुत से लोकप्रिय और पर्टयक स्थान है, जहां हर साल बहुत से सैलानी यहां गुमने के लिए आते है। मंडी जिले में स्तिथ पंडोह बांध के पानी से बिजली का उत्पादन किया जाता है ,ये लोकप्रिय बाँध 76 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। पंडोह बांध से कुल्लू और मनाली इन दोनों स्थानों को बिजली की आपूर्ति की जाती है। कुल्लू से मनाली मार्ग पर पड़ने के कारण यह स्थान सैलानियों के मन को मोह लेने वाली सुन्दरता के कारण ये हमेशा ही पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बना रहता है। यहां की प्राकृतिक सुन्दरता किसी भी यात्री का मन आसानी से मोह सकती है।

Pandoh_Dam(1)

भाखड़ा ब्यास प्रबंधन बोर्ड (बीबीएमबी) के अंतर्गत, Under Bhakra Beas Management Board (BBMB)

इस बाँध को भाखड़ा ब्यास प्रबंधन बोर्ड (बीबीएमबी) बांध के विकास, प्रबंधन, और बांध के रखरखाव के लिए जिम्मेदार है। ब्यास परियोजना के तहत इस बांध का निर्माण कार्य 1977 में पूरा हुआ, इसका प्राथमिक उद्देश्य पनबिजली उत्पादन करना था। सतलज नदी में दोनों नदियों को जोड़ने से पहले, देहर पावर हाउस में बिजली उत्पादन के लिए पानी का उपयोग किया जाता है। पावर हाउस में 990 मेगावाट की स्थापित क्षमता है।

Pandoh_Dam

सुरम्य और खूबसूरत पहाड़ियों के बीच स्तिथ है, Situated amidst picturesque and beautiful hills

पंडोह बांध हिमाचल के जिला कुल्लू से 50 किमी की दूरी पर और जिला मंडी से 20 किमी की दुरी पर और मनाली से 88 किमी की दुरी पर स्तिथ है, पंडोह बांध के जलाशय में पांच खण्ड हैं, जो पानी को नियंत्रित करते हैं। इस बांध के पानी का उपयोग देहर पावर हाउस में बिजली उत्पादन के लिए किया जाता है, यह बांध सुरम्य और खूबसूरत पहाड़ियों के बीच स्तिथ है।

Pandoh_Dam_

यात्रा करने का सही समय , Right Time to travel

घने जंगल के साथ इस बांध और भी बहुत से अद्भुत दृश्य प्रस्तुत करता है, यह साइट इस क्षेत्र में शिविर और पिकनिक के लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक मानी जाती है। यदि आप बांध का दौरा करना चाहते है, तो आप के लिए यहां की यात्रा करने का सही समय अप्रैल से जुलाई और सितंबर से दिसंबर के बीच का है।