हमीरपुर घाटी” एक लोकप्रिय और ऐतिहासिक पर्टयक स्थान, “Hamirpur Valley” a popular and historical tourist place

hamir02

हिमाचल प्रदेश में बहुत से ऐतिहासिक और लोकप्रिय पर्टयन स्थान है। जो देश विदेश में अपनी लोकप्रियता के लिए जाने जाते है। इस घाटी का नाम कटोच राजा हमीर चंद के नाम पर रखा गया था। यह लोकप्रिय स्थान अपनी ऐतिहासिक पृष्ठभूमि के साथ यह शहर सर्दियों के साथ-साथ गर्मियों में भी सैलानियों को आकर्षित करने का काम करता है। इस घाटी का सुखद वातावरण का आंनद लेने के लिए हर साल बहुत से सैलानी यहां गुमने और समय व्यतीत करने के लिए आते है।

hamir01

ऐतिहासिक, धार्मिक और प्राकृतिक स्थलों के लिए जानी जाती है यह घाटी, This valley is known for its historical, religious and natural sites

राज्य के बाकी पहाड़ी गंतव्यों की तुलना में यहां सड़कों का जाल काफी प्रभावी है, इसलिए यहां पर्यटक आसानी से पहुंच पाते हैं। हमीरपुर हिमाचल प्रदेश के सबसे सुलभ क्षेत्रों में गिना जाता है। यह स्थानअपने ऐतिहासिक, धार्मिक और प्राकृतिक स्थलों के साथ और भी बहुत से लोकप्रिय पर्टयक स्थानों के लिए जाना जाता है।

यहां पहुंचने के लिए पर्याप्त साधन, Sufficient means to get here

नई उद्यमिता और आधुनिक निर्माण के साथ हमीरपुर जिले में हिमाचल प्रदेश में तेजी से विकसित हो रहा शहर है। हमीरपुर घाटी अपने उच्च साक्षरता दर, शैक्षिक संस्थानों और हमीर उत्सव के पारंपरिक त्योहार के लिए जानी जाती है। यह जिला एक प्रमुख वाणिज्यिक केंद्र है। यह घाटी नियमित रूप से HRTC वोल्वो और साधारण बसों के साथ राष्ट्रीय राजधानी से जुड़ा हुआ है। इस घाटी में पहुंचने के लिए निकटतम हवाई अड्डा कांगड़ा और मोहाली अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा है।

hamir03

शैक्षिक संस्थानों के लिए पुरे हिमाचल प्रदेश में प्रसिद्ध, Famous for educational institutions all over Himachal Pradesh

जबकि यहां से निकटतम रेलवे 79 किमी पर ऊना में है। हमीरपुर घाटी देवदार के जंगलों और हरे भरे जंगलो से घिरा हुआ है, इसमें अच्छे शैक्षिक संस्थानों, एनआईटी, राज्य विश्वविद्यालयों और कौशल शिक्षण केंद्रों से अच्छा बुनियादी ढांचा है। जिसके लिए यह घाटी लोकप्रिय और प्रसिद्ध है, इस स्थान में बहुत से धार्मिक स्थान भी स्तिथ है। जो यहां गुमने आये सैलानियों को अपनी और आकर्षित करती है। इस घाटी की साक्षरता दर हिमाचल में सबसे ज्यादा 86% है।

hamir04