काँगड़ा में स्तिथ लोकप्रिय और प्रसिद्ध ऐतिहासिक “प्रागपुर गांव”, Popular and Famous Historical “Pragpur Village” in District Kangra

Pragpur_Village(3)

प्रागपुर हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा के पास स्थित एक विरासत और ऐतिहासिक गांव है, जिला काँगड़ा में एक प्रसिद्ध पर्टयक स्थान है, जो प्राकृतिक खूबसूरती से घिरा हुआ है, छोटे लाल ईंटों की दुकानों और पारंपरिक ग्रामीण घरों के एक पुराने विश्व आकर्षण के साथ पूर्ण रूप से अनछुएा इस गाँव का मोरम दृश्य यहां आये सैलानियों को भा जाता है, यह गांव एक अविभाजित पर्यटन पर्यटन विकल्प के लिए एकदम सही है। यह लोकप्रिय गांव प्रागपुर प्रसिद्ध कांगड़ा स्कूल ऑफ़ पेंटिंग का भी आधार है। ताज़ा शिल्प के बीच टहलने के लिए स्थानीय शिल्प की खोज से इस विरासत गांव में आने वाले पर्यटकों को जीवन भर के अनुभव के लिए एक बार जरूर यात्रा करनी चाहिए।

Pragpur_Village(2)

16 वीं शताब्दी में बसा था यह ऐतिहासिक गांव, This historic village was settled in the 16th century

इस ऐतिहासिक गांव में 16 वीं शताब्दी के अंत में पटियाला ने जसवान के राज घराने के शाही परिवार की राजकुमारी प्राग देई को मनाने के लिए प्रागपुर की स्थापना की गयी थी। तब से आज तक प्रागपुर अपने सजावटी दृश्यों और सुखद वातावरण के लिए देश विदेश में जाना जाता है। सैलानी यहां पुरानी पानी की टंकियाँ, संकरी गलियाँ, किले की तरह बने मकान, विला और हवेलियाँ इस गाँव के रोचक इतिहास के प्रमाण है। करिश्मे का प्रमाण हैं। अपनी प्राचीन, आकर्षित सुंदरता और अद्वितीय वास्तुकला के कारण हिमाचल प्रदेश की राज्य सरकार ने 9 दिसंबर 1997 को प्रागपुर को भारत का पहला हेरिटेज विलेज घोषित किया था।

Pragpur_Village(5)

बहुत सी रोमांचित गतिविधिया, Many exciting activities

इंडियन नेशनल ट्रस्ट फॉर आर्ट एंड कल्चरल हेरिटेज आने वाले समय के लिए गांव को उसी जातीय ग्रामीण पृष्ठभूमि में संरक्षित और चलाने पर काम कर रहे हैं। गाँव में विभिन्न प्रकार के पॉकेट-फ्रेंडली आवास विकल्प उपलब्ध हैं। पर्टयक यहां बहुत से रोमांचित कार्य कर सकते है, जो बेहद रोमांचित है। पर्टयक यहां Fishing and Bird Watching, Water Sports, Adventure Sports, Train travel जैसी बहुत सी गतिविधियों से रोमांचित हो सकते है। काँगड़ा यात्रा के दौरान आप इस स्थान की भी यात्रा कर हो। सैलानी यहां साल में कभी भी आ सकते है। हर साल बहुत से पर्टयक यहां गुमने और समय व्यतीत करने के लिए आते है।

Pragpur_Village(1)

कैसे पहुंचा जाए इस ऐतिहासिक स्थल पर, How to reach this historical place

सैलानी यहां हवाई, सड़क और रेल के माध्यम से आसानी से इस ऐतिहासिक प्रागपुर गांव पहुंच सकते है, इस स्थान से निकटतम हवाई काँगड़ा जिले का गगल हवाई अड्डा है। पर्टयक सड़क मार्ग के माध्यम से भी यहां आसानी से पहुंच सकते है। पर्टयक अपनी यात्रा चंडीगढ़, अमृतसर और पठानकोट से भी कर सकते है। यहां से इस स्थान के लिए बहुत सी सार्वजनिक और निजी बसे चलती है। काँगड़ा यात्रा के दौरान इस लोकप्रिय स्थान की यात्रा करना ना भूले।