लाहौल स्पीति में स्तिथ “चैंबर ऑफ पिक्चर ट्रेजर्स” एक लोकप्रिय पर्टयक स्थान, The Chamber of Picture Treasures” is a popular place to visit in Lahaul Spiti

चैंबर ऑफ पिक्चर ट्रेजर्स एक बहुत ही लोकप्रिय पर्टयक स्थान है, जो हिमाचल प्रदेश के जिला लाहौल स्पीति में स्तिथ है, इस लोकप्रय स्थान को ज़ाल-मा के नाम से भी जाना जाता है, चैंबर ऑफ पिक्चर ट्रेजर्स प्रसिद्ध “तबो मठ” परिसर के भीतर स्थित है। इस मंदिर परिसर में बाद के परिवर्धन में गिना जाने वाला यह आर्ट गैलरी, तिब्बती शैली के चित्रों का एक अनूठा संग्रह प्रदर्शित करता है। यह कक्ष प्रबुद्ध देवताओं के मंदिर के लिए एक बाहरी कमरे के रूप में कार्य करता है। हर साल बहुत से सैलानी यहां की यात्रा करते है,यह स्थब बेहद शांत और आरामदायक है। यह पूरा क्षेत्र प्राकतिक सौंदर्य से भरपूर है। जो सैलानियों को अपनी और आकर्षित करता है।

picture_saved(2)

हिमाचल में बौद्ध धर्म का प्रभा, Influence of Buddhism in Himachal

भारत के राज्य हिमाचल प्रदेश में लोकप्रिय बौद्ध धर्म लंबे समय से प्रचलित है। हिमाचल में बौद्ध धर्म का प्रसार अपने पूरे इतिहास में मध्यवर्ती रूप से हुआ है। यह तकरीबन तीसरी शताब्दी में, बौद्ध धर्म का प्रचार मौर्य साम्राज्य द्वारा अशोक के शासन में किया गया था। यह क्षेत्र कुषाण साम्राज्य और उसके जागीरदारों के अधीन बौद्ध धर्म का एक महत्वपूर्ण केंद्र बना रहेगा।

picture_saved

सदियों से बौद्ध धर्म के निम्नलिखित में बहुत उतार-चढ़ाव आया है। फिर भी, पुनरुत्थान और पलायन का अनुभव करके क्षेत्र में, विशेषकर लाहौल, स्पीति और किन्नौर घाटियों में बौद्ध धर्म निहित रहा। यहां बहुत से धार्मिक स्थानों, मठो का निर्माण हुआ। उन्ही में से एक है यह लोकप्रिय स्थान।

Related Posts