हिमाचल प्रदेश के सरकाघाट के कवि प्रमोद कुमार को मिला साहित्य रत्न सम्मान

हिमाचल प्रदेश के जिला मंडी के स्थाई निवासी कवि प्रमोद कुमार को नई दिल्ली में साहित्य रत्न सम्मान से सम्मानित किया गया है। गांधी शांति प्रतिष्ठान के सभागार में देश भर के कवियों और साहित्य प्रेमियों के लिए नवोदित साहित्यकार मंच दिल्ली द्वारा कवि सम्मेलन व सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। इस दौरान देश के सभी राज्यों से करीब 100 कवियों ने अपनी कविताओं से सबको अपनी कविताओं से बेहद रोमांचित किया।

सरकाघाट की चोलथरा पंचायत के कोठी गांव से सबंदित है यह कवि

नई दिल्ली में आयोजित इस कवि सम्मेलन के साथ नवोदित साहित्यकार मंच द्वारा प्रकाशित दो काव्य संग्रह ‘एक नई मधुशाला’, ‘तेरे मेरे अल्फाज’ का विमोचन हुआ। इस कार्यक्रम में हिमाचल प्रदेश के सरकाघाट की चोलथरा पंचायत के कोठी गांव के कवि प्रमोद कुमार हर्ष को साहित्य के क्षेत्र में योगदान देने के लिए संस्था द्वारा दिल्ली साहित्य रत्न सम्मान-2019 से सम्मानित किया गया। इन्होने हिमाचल प्रदेश का नाम रोशन किया है। प्रमोद कुमार हर्ष को इनकी इस उपलब्धि पर प्रदेश सरकार ने बेहद प्रोत्साहन दिया है।

कवि प्रमोद कुमार की इस उपलब्धि के लिए दी गांव के सभी कार्यकर्ताओ ने दी बधाई

इसके साथ ही गांव के ग्राम पंचायत प्रधान पवन ठाकुर बीडीसी सदस्य संजीव कुमार, साहित्यकार हंसराज भारती, प्रेम कुमारी ठाकुर, पूर्व बीडीसी सदस्या कुसुम, पूर्व प्रधानाचार्य प्रेम सिंह ठाकुर, बसंतपुर पंचायत प्रधान विजय कुमार सहित कई अन्य लोगों ने बधाई दी है। और इन की इस उपलब्धि के लिए प्रोत्साहन दिया है। कवि प्रमोद कुमार की कविताओं को बहुत सहारा है। उनकी रचना को खूब पसंद किया गया है।

Poet Pramod Kumar of Sarkaghat, Himachal Pradesh received the Sahitya Ratna Award

Related Posts