मैड़ी मेला में Overloading को रोकने के लिए जिला प्रशासन ने चलाई शटल बस सेवा

una

ऊना 3 मार्च से आरंभ होने जा रहे मैड़ी मेला में Overloading को रोकने के लिए जिला प्रशासन इसकी तैयारियों में जुट गया है। Deputy Commissioner संदीप कुमार ने बताया कि पंजाब से मालवाहक के यातायात-साधन में सवार होकर आने वाले श्रद्धालुओं को रोकने के लिए 4 स्थानों पर Barrier स्थापित किए जाएंगे।

4 स्थानों से आगे नहीं होने दी जाएगी Overloading

संदीप कुमार ने कहा कि ADC अरिंदम चौधरी एवं ASP विनोद कुमार धीमान ने रोपड़ जिला प्रशासन के साथ मिलकर नंगल की तरफ से आने वाली Overload गाड़ियों को रोकने के लिए जगह को चयनित कर लिया गया है। अजौली मोड़ रेलवे फाटक के समीप बैरियर स्थापित किया जाएगा। यहीं पर पंजाब से मालवाहक साधन में सवार होकर आने वाले श्रद्धालुओं को उतार लिया जाएगा। इसके साथ ही गढ़शंकर की तरफ से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए संतोषगढ़ में भी इसी प्रकार का बैरियर स्थापित किया जाएगा। इसके अतिरिक्त होशियारपुर की सीमा के नजदीक आशापुरी बैरियर से आगे Overloading नहीं होने दी जाएगी। इसके साथ पंजाब के साधु चक्क में भी Parking स्थान का चयन किया गया है। यहां से आगे मालवाहक साधन को ले जाने की अनुमति नहीं होगी। इन 4 स्थानों से आगे Overloading नहीं होने दी जाएगी।

यहीं से शटल बस सेवा करवाई जाएगी मौजूद

यहीं से शटल बस सेवा मौजूद करवाई जाएगी। उन्होंने कहा कि औसतन प्रत्येक बैरियर पर 5 शटल बसें उपलब्ध रहेंगी। यहां से श्रद्धालुओं को इन बसों में मैड़ी के लिए रवाना किया जाएगा। DC ने कहा कि जिला प्रशासन होशियारपुर और रोपड़ के साथ मिलकर संयुक्त पुलिस नाके भी स्थापित किए जाएंगे। इस विषय में दोनों जिलों के प्रशासन के साथ बातचीत की गई है।

जिला प्रशासन की Appeal, मालवाहक वाहनों में Overloading करके न आएं

जिला प्रशासन ने श्रद्धालुओं से Appeal की कि वे मालवाहक वाहनों में Overloading करके न आएं क्योंकि इस वजह से हादसे ते होहैं, जिसमें बेकसूर लोगों की मौतें हो जाती हैं। उन्होंने सभी श्रद्धालुओं से जिला प्रशासन का सहयोग करने की Appeal की है।