कांगड़ा के अर्णव शर्मा ने चमकाया हिमाचल का नाम, नासा पहुंचने से एक कदम दूर

arnav sharma

हिमाचल प्रदेश के काँगड़ा जिले के अर्णव शर्मा ने हिमाचल और अपने परिजनों का नाम देश भर में रोशन किया है। अर्णव शर्मा देहरा के गांव नलेटी के रहने वाले है। माना जा रहा है की अर्णव शर्मा नासा में पहुंचने से एक कदम की दूरी पर है। अर्णव शर्मा ने डिस्कवरी स्कूल सुपर लीग में बेहतर प्रदर्शन से सेमीफाइनल में अपनी जगह बना ली है। अर्णव शर्मा ने देशभर के टॉप-60 प्रतिभागियों में स्थान बनाया है।

मुंबई में 18 मार्च को होगा सेमीफाइनल

प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है, की इसमें हिमाचल के मात्र 2 छात्र ही हैं। अब यह दोनों मुंबई में 18 मार्च को होने वाले सेमीफाइनल में भाग लेंगे। इसी सेमीफाइनल पर ही नासा जाने का टिकट भी तय होगा। इस दौरान नासा भ्रमण के लिए चयनित छात्र विज्ञान के विभिन्न प्रयोगों के बारे में भी जान सकेंगे।

उन्हें मशहूर वैज्ञानिको के साथ प्रशिक्षित और शिक्षा प्राप्त करने का मौका मिलेगा। स्कूल सुपर लीग के अंतिम चरण में सेक्रेड हर्ट सीनियर सेकेंडरी स्कूल सिधपुर (धर्मशाला) में पढ़ाई कर रहे नलेटी के अर्णव शर्मा हिमाचल का प्रतिनिधित्व करेंगे।

60 विद्यार्थियों के बिच होगा को ही बुलाया गया है मुंबई

इस प्रतियोगिता डिस्कवरी स्कूल सुपर लीग सीजन-2 में इस साल लाखों विद्यार्थियों ने भाग लिया था। जिसमे अंतिम चरण के लिए सिर्फ 60 विद्यार्थियों को ही मुंबई बुलाया गया है। जिसमे अर्णव शर्मा को टीम के कैप्टन के रूप में शिरकत करने का अवसर मिलेगा।

अर्णव शर्मा के पिता दिनेश शर्मा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला टंग नरवाना में फिजिक्स के प्रवक्ता हैं और माता रजनी शर्मा गणित की अध्यापिका हैं। अर्णव शर्मा ने बताया की उन्हें विज्ञान में शुरू से ही रूचि थी। अर्णव शर्मा के माता और पिता को अर्णव की इस उपलब्धि के लिए बहुत गर्व है।

Arnav Sharma of Kangra brightens Himachal’s name, one step away from reaching NASA