रायपुर में बारिश एवं ओलावृष्टि का पानी Poultry farm में जाने से मुर्गो की मौत

HIMACHAL PRADESH

ऊना जिले के बंगाणा उपमंडल में रायपुर मैदान के घट्टा गाँव में मंगलवार को हुई बरसात से Poultry farm में 350 से अधिक मुर्गे जबकि 300 चूजों की मृत्यु हो गई। Veterinary Doctor अभिनव राणा ने मौके पर जाकर इस घटना स्थल का जायजा किया। डॉक्टर अभिनव राणा ने बंगाणा में वरिष्ठ पशु चिकित्सक को इसकी रिपोर्ट सौंप दी है।

300 से अधिक मुर्गे पानी में मर गए

दुःखित परिवार के राजेंद्र कुमार पुत्र ख्याला राम ने बताया कि मंगलवार को लगभग 5 बजे बिजली कड़की। लगभग आधा घंटा ओलावृष्टि भी हुई। इसके पश्चात मूसलाधार बारिश होने लगी। बारिश एवं ओलावृष्टि का पानी chicken farm में घुस गया। देखते देखते chicken farm के अंदर लगभग 4 से 5 फीट तक पानी भर गया। उस समय chicken farm के अंदर 300 चूजे एवं 350 मुर्गे थे। राजेंद्र ने जानकारी दी कि उसने एवं परिवार ने कुछ बड़े मुर्गे कमरे में रखे। फिर भी 300 से अधिक मुर्गे पानी में मर गए।

अपने एवं परिवार के गुज़र-बसर के लिए किया था मुर्गी पालन

राजेंद्र ने जानकारी दी कि वह एक निर्धन परिवार से संबंध रखता है। अपने एवं परिवार के गुज़र-बसर के लिए मुर्गी पालन किया था। 5 महीने पहले उन्होंने बड़े Shed का निर्माण करवाया है। डॉक्टर सतिंद्र ठाकुर से प्रशिक्षण लेकर poultry से जुड़े बेमौसमी ओलावृष्टि एवं बरसात ने उनके काम पर पानी फेर दिया है। राजेंद्र को लाखों का loss हो गया। पीड़ित परिवार के द्वारा प्रशासन से मांग की गई है कि उनको उचित क्षतिपूर्ति दी जाए।

Teem के साथ घटना स्थल का लिया जायजा : अभिनव राणा

रायपुर वेटरनरी हॉस्पिटल के डॉक्टर अभिनव राणा ने बताया कि Teem के साथ उन्होंने घटना स्थल का जायजा किया है। इसके बारे में उच्च अधिकारी को भी जानकारी दे दी है। उसकी Report बनाकर उच्च अधिकारियों को भी भेजी जाएगी जिससे कि पीड़ित परिवार को मदद मिल सके।

पीड़ित परिवार को मिलेगा मुआवज : सतिंद्र ठाकुर

उपमंडल बंगाणा के वरिष्ठ पशु चिकित्सक अधिकारी डॉक्टर सतिंद्र ठाकुर ने बताया कि रायपुर में आपदा से 300 से अधिक मुर्गे मरने की जानकारी मिली है। पीड़ित के Farm में नुकसान की Report तैयार करने के Staff को आदेश जारी कर दिए हैं। Report आने के पश्चात पीड़ित परिवार को उच्च रूप से क्षतिपूर्ति दी जाएगी।