एससी एसटी एक्ट को रद्द करने की उठाई मांग, बंद किया जाए जातिगत आरक्षण (गिरिराज)

हिमाचल प्रदेश के जिला मंडी के सुंदरनगर में सामान्य वर्ग कल्याण समिति ने देश में लागू आरक्षण व्यवस्था समाप्त करने की मांग की है। इस समिति का यह कहना है, कि आरक्षण व्यवस्था के कारण देश में सामान्य वर्ग के हितों के साथ अन्याय हो रहा है। इस समिति का यह कहना है, की देश में जातिगत आरक्षण व्यवस्था के स्थान पर नहीं बल्कि आर्थिक आधार पर आरक्षण दिया जाना चाहिए। इस समिति का यह कहना है, की वो अपनी इस मांग को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से मिल कर उन्हें ज्ञापन सौंपेगा, साथ ही समिति का कहा है की वो देश के प्रधानमंत्री को भी यह ज्ञापन प्रेषित किया जाएगा।

“गिरिराज सिंह” इस समिति के बतौर मुख्यातिथि रहे

मंडी जिले में रविवार को सुंदरनगर में आयोजित हिमाचल प्रदेश सामान्य वर्ग कल्याण समिति का अधिवेशन आयोजित किया गया। इसकी अध्यक्षता समिति के संयोजक और हिमाचल प्रदेश राजपूत सभा के महासचिव “केएस जंवाल” ने की। इस मौके पर राजस्थान की राजपूत सभा के प्रदेश अध्यक्ष “गिरिराज सिंह” इस समिति के बतौर मुख्यातिथि रहे। गिरिराज सिंह ने कहा कि देश में आजादी से पहले राजाओं से लेकर प्रजा तक सभी वर्गों ने वर्ण व्यवस्था के तहत कार्य किया।

उनका कहना तह की सभी ने अपने-अपने कर्तव्यों का भली भांति निर्वहन किया। स्वतंत्रता संग्राम के आंदोलन में सभी वर्गों के लोगो ने बढ़ चढ़कर भाग लिया। इसी दौरान अव्यवस्थाओं को समाप्त करने के लिए और कुछ जातियों को समान अवसर प्रदान करने के लिए 10 वर्ष के लिए आरक्षण की व्यवस्था हुई थी। हमारे संविधान में की गयी थी,उनका कहना है की अभी 70 साल बीत जाने के बाद भी इसे अब हटाया नहीं जा रहा है।

विभिन्न महत्वपूर्ण व्यक्ति रहे मौजूद

इस के साथ ही उन्होंने अंतरजातीय विवाह पर प्रोत्साहन राशि को बंद करने और एससीएसटी एक्ट को रद्द करने की मांग भी उठाई। उनका कहना की जो राशि अंतरजातीय विवाह पर दी जाती है, उसे बंद किया जाए, उनका यह कहना हि की यह सामन्य वर्ग के लिए एक अन्याय है। यह (KS जंवाल) ने कहा कि सामान्य वर्ग की ज्वलंत समस्याओं के प्रति जागरूकता लाने तथा राज्य एवं केंद्र सरकार से इनका न्यायोचित हल करवाने के लिए संघर्ष जारी है। इस मौके पर बहुत से मत्वपूर्ण लोगो ने अपनी उपस्तिथी दी।

जिसमे राजपूत सभा से “सुरेंद्र सेन” राजा ठाकुर, खत्री सभा के प्रधान पीसी विष्ट, आहलूवालिया सभा के प्रदेशाध्यक्ष रमेश वालिया, क्षत्रिय सभा के प्रधान भूपेंद्र सेन, राजपूत सभा सुंदरनगर के प्रधान राजेंद्र भंडारी महाजन सभा के प्रधान एमएल गुप्ता, राजपूत कल्याण ट्रस्ट कांगड़ा के चेयरमैन कुलदीप ठाकुर, राजपूत महासभा के अध्यक्ष टेक चंद राणा, नामधारी सभा के प्रधान हरमीक सिंह, सहित अन्य मौजूद रहे।

Raised demand to repeal SC-ST Act, caste reservation should be discontinued (Giriraj)