हिमाचल के गांव भी जुड़ेंगे सीवरेज योजना से, गांव में भी मिल पायेगी सीवरेज की सुविधा

himachal p

हिमाचल प्रदेश सरकार ने शहरी क्षेत्रों के बाद अब गांवों को भी सीवरेज योजना से जोड़ा जाएगा। हर विधानसभा क्षेत्र के हर एक गांव का इसके लिए सर्वे किया जाएगा। उसके बाद योजना को शुरू करने पर विचार किया जाएगा। नाचन के विधायक विनोद कुमार के सवाल का जवाब देते हुए जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ने बताया कि अभी चार ग्रामीण क्षेत्रों में ट्रायल किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि ग्रामीण विकास विभाग से इस कार्य के लिए डिपॉजिट दिया गया है। हिमाचल प्रदेश के ऐसे गांव भी स्तिथ है। जहां घनी आबादी है, वहां इन योजना को शुरू किया जाएगा।

एनजीटी मानीटरिंग कर रही है इस योजना में

प्राप्त जानकरी के अनुसार सभी विधायकों से एक-एक गांव का नाम बताने की अपील भी की। इसी दौरान सुंदरनगर के विधायक राकेश जमवाल ने क्षेत्र के चार वार्डों को मल प्रवाह से जोड़ने की मांग उठाई। उन्होंने कहा कि सीवरेज कनेक्टिविटी न होने से सुकेती खड्ड से सतलुज में गंदगी जा रही है। जिस बजह से विभिन्न प्रकार की बीमारिया उत्पन हो रे है।

बताया जा रहा है की एनजीटी इसकी मानीटरिंग कर रही है। इस पर जल शक्ति मंत्री ने विधायक को स्थानीय अधिकारियों के साथ इस मामले को लेकर बैठक करने को कहा। उन्होंने कहा कि आगामी बजट में इसका प्रावधान करने का प्रयास किया जाएगा। और जल्द ही करवाई की जायेगी।

Villages of Himachal will also be connected with sewerage scheme, sewerage facility will also be available in villages