गगरेट में Rain shelter का सरिया चोरी, अंबेहड़ा में सरकारी जमीन से खैर के पेड़ काटते हुए पकड़ा आरोपी

ezgif.com-gif-maker(4)

गगरेट क्षेत्र के पास के गांव दियोली में वर्षाशालिका बनाने के लिए रखे लगभग 10 क्विंटल सरिया को शातिर चोरी करके ले गए हैं। सरिया चोरी होने कि वजह से संबंधित ठेकेदार को करीब-करीब 45 हजार का loss हुआ है। इस चोरी की घटना से गांव के लोगों में दहशत का माहौल बना हुआ है। वहीं पर, पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामले की अगली कार्रवाई आरंभ कर दी है।

CCTV कैमरों की निकली जा रही Footage

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार पुलिस थाना गगरेट के अंतर्गत शातिर गांव दियोली में Cylinder factory के सामने Rain shelter बनाने के लिए रखे लगभग 10 क्विंटल सरिये को चोरी करके ले गए हैं। मिली जानकारी के अनुसार सरिया लोक निर्माण विभाग के एक ठेकेदार ने Deoli Cylinder Factory के साथ Rain shelter बनाने के लिए रखा था।

परन्तु, शुक्रवार देर रात को शातिर सरिया चुराकर मौके से भाग गए। पुलिस के द्वारा क्षेत्र के नजदीक जो भी मोबाइल रात के समय इस Location पर थे उन्हें Track पर लगाया है। इसके साथ ही इस सड़क में आने वाले सभी CCTV कैमरों की Footage भी निकली जा रही है परन्तु अभी तक पुलिस को इन शातिरों का सुराग नहीं मिला पाया है। उधर, गगरेट थाना प्रभारी हरनाम सिंह के अनुसार पुलिस ने मौके पर पहुंचकर इस मामले की जांच आरंभ कर दी है।

वन विभाग की Teem को मिली secret information

बंगाणा क्षेत्र के समीप गांव अंबेहड़ा राम किशन में वन विभाग की Teem ने secret information के आधार पर एक व्यक्ति को सरकारी जमीन से खैर के पेड़ काटते हुए पकड़ा है। इस आरोपी की पहचान रणजीत सिंह पुत्र लक्ष्मण सिंह निवासी गांव अंबेहड़ा राम किशन जिला ऊना के रूप में कि गई है। वन विभाग की Teem ने आरोपी से 13 खैर के मोछे बरामद किए हैं। वहीं पर विभाग के अधिकारियों की complaint के आधार पर पुलिस ने आरोपी के विरुद्ध केस दर्ज कर जांच आरंभ कर दी है।

डेढ़ साल में 2 दर्जन से अधिक अवैध कटान के मामले दर्ज

सूत्रों में मिली जानकारी के मुताबिक पुलिस थाना बंगाणा के अंतर्गत वन परिक्षेत्र अधिकारी रामगढ़धार संदीप सेठी ने अपनी Teem के साथ कार्रवाई करते हुए अंबेहड़ा राम किशन में Government land से खैरों के पेड़ों पर कुल्हाड़ी चलाते हुए आरोपी रणजीत सिंह को रंगे हाथों पकड़ा है। जानकारी मिली है कि पंचायत में 5 से 10 किमी की दूरी पर किसी भी मलकीयत भूमि पर खैर का कटान नहीं किया जा रहा है।

फिर इस आरोपी के द्वारा सरकारी जंगल से खैर काटकर किसे दिए जाते है। पिछले डेढ़ साल में 2 दर्जन से अधिक अवैध कटान के मामले दर्ज हो चुके हैं। वन विभाग की संयुक्त टीम के द्वारा 13 खैर के मोछे बरामद किए गए हैं। उधर, वन परिक्षेत्र अधिकारी रामगढ़धार संदीप सेठी ने कहा कि उन्होंने अवैध कटान का मामला दर्ज करके मोछों को अपने कब्जे में ले लिया है। उन्होंने कहा कि विभाग ने मामले की अगली कार्रवाई आरंभ कर दी है।