विधानसभा में तबादले को लेकर हुआ जयराम सरकार का घिराव

हिमाचल प्रदेश विधानसभा में कांग्रेस विधायक राजेंद्र राणा ने कर्मचारियों के तबादला उत्पीड़न लको लेकर प्रसन्न उठाये है। राजेंद्र राणा ने प्रदेश सरकार को घेरते हुए पूछा कि अब तक सरकार ने किस-किस विभाग में कितने तबादले करवाए हैं। इसके साथ ही उन्होंने यह भी पूछा की अभी तक जितने भी तबादले आप की वर्तमान सरकार ने किये है, उन में से कितनो को टीटीए के साथ और कितने तबादले बिना टीटीए से किए हैं। उन्हें इस की जानकारी चाहिए।

53 हजार 680 तबादले हुए है जयराम सरकार में

इसी दौरान प्रश्न संख्या नंबर 1183 के तहत मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने विपक्ष को करारा जवाब देते हुए कहा कि 31 जुलाई 2019 तक विभिन्न विभागों में हुए तबादलों का आंकड़ा सरकार के पास मौजूद है।

अभी तक जितने भी तबादले किये गए है। उन के पास उन सब की जानकारी है। प्राप्त जानकारी के अनुसार और आंकड़ो के अनुसार 53 हजार 680 तबादले किए जा चुके है। इसके साथ उन्होंने यह भी कहा की पिछली सरकार की तुलना में इस अवधि के दौरान अधिक तबादले हुए हैं।

बदला-बदली नहीं चलेगी के लगे नारे

इसके साथ ही राजेंद्र राणा ने इसी प्रश्न के दौरान यह भी जानना चाहा कि कितने तबादले एडमिनिस्ट्रेटिव ग्राउंड पर हुए हैं। इस प्रश्न को लेकर विधानसभा में खूब हंगामा बरपा और जयराम सरकार का घिराव हुआ। जिसे चलते विपक्ष ने बदला-बदली नहीं चलेगी को लेकर वॉकआउट भी किया। विधानसभा सत्र के बाद राजेंद्र राणा ने कहा कि बीजेपी के सत्ताकाल के तबादलों का सरकार के पास 31 जुलाई 2019 तक का ही आंकड़ा था। जबकि उसके बाद भी बहुत से तबादले हुए है।

कर्मचारी में तबादलों का खौफ

बताया गया है की यदि करीब सवा दो साल का सत्ता काल का समय जोड़ दिया जाए तो इस हिसाब से सरकार अब तक के रहे कुल सत्ताकाल की अवधि में करीब 1 लाख से ज्यादा तबादले कर चुकी है। जोकि अपने आप में एक रिकॉर्ड है। इसी दौरान राणा ने यह भी कहा की तबादलों के खौफ में कर्मचारी अपना काम अपनी योग्यता के अनुसार नहीं कर पा रहे है।

Jairam government’s clamor for transfer in assembly

Related Posts