हिमाचल प्रदेश में जेईई मेन्स की परीक्षा टली, कोरोना के चलते एनटीए ने स्थगित की परीक्षा

हिमाचल प्रदेश में स्तिथ विश्वभर में मंडराए जानलेवा कोरोना वायरस के संकट को देखते हुए अप्रैल में होने वाली जेईई मेन्स की परीक्षा को एग्जाम कंडक्ट करने वाली एजेंसी एनटीए (नेशनल टेस्टिंग एजेंसी) ने टाल दिया गया है। प्रदेश में हुई

इस परीक्षा का अगला शेड्यूल 31 मार्च के बाद ही तय हो सकता है। हिमाचल प्रदेश में फिलहाल इस परीक्षा के टलने से हिमाचल सहित देशभर के उन लाखों छात्रों को राहत मिली है, जो कोचिंग एकेडमियां बंद होने के चलते स्टडी से वंचित रहने वाले थे।

सभी शिक्षण संस्थान बंद करने के आदेश

प्राप्त जानकारी के अनुसार पिछले दिनों कोरोना वायरस के खतरे को भांपते हुए सरकार के निर्देशानुसार सभी शिक्षण संस्थान बंद करने के आदेश हुए थे, जिसके बाद कोचिंग एकेडमियों ने भी एहतियातन कक्षाएं लेनी बंद कर दी थीं। जानकारी

के अनुसार देशभर में जेईई मेन्स फेज-2 की परीक्षा पांच से 11 अप्रैल को होनी थीं। इसी के साथ प्रदेश में प्लस-टू में नॉन मेडिकल की परीक्षा दे रहे इंजीनियर बनने की चाह रखने वाले जिन छात्रों ने यह परीक्षा देनी थी।

कोचिंग एकेडमियों में कोरोना की बजह से कक्षाएं बंद

हिमाचल प्रदेश में उनके पेपर 20 मार्च को समाप्त होने वाले थे। इसके बाद ये छात्र कोचिंग एकेडमियों में परीक्षा की तैयारी के लिए 15 दिन का क्रैश कोर्स करते हैं। लेकिन पिछले दिनों जब कोचिंग एकेडमियों ने कोरोना के खतरे को भांपते हुए कक्षाएं न लेने का फैसला किया, जो उन छात्रों को चिंता सताने लगी थी,जो अप्रैल में होने वाली इस परीक्षा में बैठने वाले थे।

क्योंकि क्रेश कोर्स इस परीक्षा में काफी मददगार साबित होता है। देशभर की बात करें, तो हर साल 14 से 15 लाख छात्र जेईई मेन की परीक्षा को देते हैं। इसका पहला फेज जनवरी में जबकि दूसरा अप्रैल में होता है। प्रदेश में फैले कोरोना को लेकर प्रदेशवासियों में डर का माहोल है।

JEE Men’s exam postponed in Himachal Pradesh, NTA postponed due to Corona

Related Posts