राजधानी शिमला में नहीं होगी मोबाइल नेटवर्क की परेशानी, शौचालयों पर लगेंगे टावर

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला शहर में अब गुमने आये पर्टयकों और स्थाई लोगों को मोबाइल फोन में सिग्नल की समस्या नहीं सताएगी। प्रपात जानकारी के अनुसार नगर निगम शिमला शहर में बने सार्वजनिक शौचालयों पर मोबाइल टावर लगाएगा। जिससे यहां पर लोगों को मोबाइल फोन का बढ़िया सिग्नल मिलेगा। इससे लोगों को बात करने में अब नेटवर्क की समस्या नहीं सताएगी।

हरियाणा की कंपनी ने रखी शिमला नगर निगम के समक्ष यह योजना

इस योजना हरियाणा की एक कंपनी ने निगम को पत्र लिखकर जगह के लिए आवेदन किया था। कंपनी टावर लगाने के साथ ही निगम को इसके लिए किराया भी देगा। जिस से बढ़िया सिग्नल के साथ-साथ शिमला नगर निगम को भी मुनाफा होगा। इस योजना से शिमला के हर कोने में यह टावर लगाए जायेंगे।

सालाना करोड़ों रुपये की आय प्राप्त हो सकती है नगर निगम को इस योजना से

प्रदेश की राजधानी शिमला को इस योजना से सालाना करोड़ों रुपये की आय प्राप्त होगी। अभी किराया तय नहीं किया है। मगर कंपनी के साथ समझौते के दौरान ही किराये की दरें तय की जाएंगी। निगम ने शहर भर में बने 69 शौचालयों को टावर लगाने के लिए चिह्नित किया है। शिमला हिमाचल में सबसे लोकप्रिय पर्टयक स्थान है। जहां हर साल भरी मात्रा में सैलानी गुमने और समय व्यतीत करने के लिए आते है।

मोबाइल नेटवर्क के साथ इंटरनेट की स्पीड में होगी बढ़ोतरी

इसके अलावा तीन पार्किंग जिनमें (ISBT) बाईपास व सचदेवा पार्किंग में भी टावर लगाने प्रस्तावित किए गए हैं। इसके साथ ही इन टावरो की ऊंचाई नौ मीटर होगी और यह टावर आसपास के क्षेत्र के मोबाइल नेटवर्क को मजबूत करेगा।

यहां पर मोबाइल टावर लगने से स्थाई निवासियों के साथ-साथ देश विदेश से आये पर्टयकों को भी बहुत से लाभ मिलेंगे। इन टावरों के बजह से यहां इंटरनेट की स्पीड में में बढ़ोतरी होगी। जिस से पर्टयकों को इंटरनेट की परेशानियों से भी मुक्ति मिलेगी।

Capital network will not have problems in capital Shimla, towers will be installed on toilets