कोरोना वायरस से प्रभावित देशों के भ्रमण से बापिस आये, विद्यार्थीयो को 28 दिन तक का अवकाश

coro

हिमाचल प्रदेश में कोरोना वायरस से प्रभावित देशों से लौटे छात्रों और शिक्षकों को सरकार ने 28 दिन तक स्कूल न जाने के निर्देश दिए हैं। हिमाचल प्रदेश के निजी स्कूलों में दिसंबर से फरवरी व मार्च तक स्कूलों में छुट्टियां थीं। इस दौरान कई बच्चे अभिभावक शिक्षक प्रभावित क्षेत्रों में भ्रमण करने गए थे। और समय व्यतीत करने के लिए गए थी।

प्रदेश के छात्रों के अभिभावकों को भी निर्देश दिए हैं कि वे भ्रमण की जानकारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी को दें। और जल्द से जल्द अतिरिक्त मुख्य सचिव स्वास्थ्य आरडी धीमान ने कहा कि इस समय प्रदेश में 218 लोग प्रभावित देशों से हिमाचल प्रदेश आए हैं।

प्रदेश में प्राप्त सैंपल को दिल्ली भेजा गया है

प्राप्त जानकरी के अनुसार उन्हें सुरक्षा की दृष्टि से निगरानी में रखा गया है। बताया जा रहा है, की इनमें 3 लोगों के सैंपल दिल्ली भेज दिए गए हैं। इनकी रिपोर्ट शुक्रवार तक आनी है। कि 10 फरवरी से लेकर अब तक किसी भी प्रभावित देशों से वापस आए हैं,

इसकी सूचना टोल फ्री नंबर 104 पर दें। कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बुखार, जुकाम, सांस लेने में तकलीफ, नाक बहना और गले में खराश जैसी समस्या उत्पन्न होती हैं। यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है।

कोरोनावायरस से बचने के लिए दिशा निर्देश

हिमाचल प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोनावायरस से बचने के लिए प्रदेश भर में दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। इसके साथ ही हाथों को साबुन से धोना चाहिए। इसके साथ ही खांसते और छींकते समय नाक और मुंह पर रुमाल का प्रयोग करें।

इस के साथ ही जिन व्यक्तियों में सर्दी और फ्लू के लक्षण हों, उनसे दूरी बनाकर रखें। इसके साथ ही अंडे और मांस के सेवन से बचें। और लोगो को जंगली जानवरों के संपर्क में आने से बचने के लिए कहा गया है।

Himachal’s Himalayas again white sheet, weather changed