हिमाचल प्रदेश के प्रसिद्ध पांवटा होली मेले में नहीं होंगे सांस्कृतिक कार्यक्रम, कोरोनावायरस का खौफ

हिमाचल प्रदेश के जिला सिरमौर में आयोजित पांवटा होली मेले में इस बार कोरोनावायरस के खौफ की बजह से इस बार कोरोनावायरस के खौफ के चलते गुरु की नगरी पांवटा साहिब के ऐतिहासिक होली मोहल्ला मेले में इस बार 12 और 13 मार्च को होने वाली सांस्कृतिक संध्याओं का आयोजन नहीं किया जायेगा। प्राप्त जानकारी के अनुसार इसके अलावा 17 मार्च को होने वाले ऐतिहासिक दंगल को भी रद्द कर दिया गया है। यह निर्णय प्रशासन और मेला आयोजन कमेटी ने लिया है।

कोरोनावायरस को लेकर जागरूकता साइन बोर्ड लगाए

प्रदेश में आयोजित इस मेले के दौरान जगह-जगह कोरोनावायरस को लेकर जागरूकता साइन बोर्ड लगाए जाएंगे। इसी साथ रविवार को मेला कमेटी बैठक में एसडीएम पांवटा एलआर वर्मा की अध्यक्षता में हुई। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की गाइडलाइन के तहत कार्यक्रम रद्द करने का फैसला लिया है। दूसरी ओर हमीरपुर के सुजानपुर होली मेले में भी दो दिन की ही सांस्कृतिक संध्याएं हो रही हैं।

ऊना के मैड़ी में भी बाबा बड़भाग सिंह होली मेले का आयोजन

इसी के साथ ही ऊना के मैड़ी में भी बाबा बड़भाग सिंह होली मेले में रोजाना हजारों की संख्या में पंजाब और बाहरी राज्यों से लोग पहुंच रहे हैं। ऊना का मैड़ी एक बहुत ही लोकप्रिय और प्रसिद्ध पर्टयक धार्मिक स्थल है। यहां हजारों लोगों की भीड़ के लिए रोक न लगाने का दोहरा मापदंड समझ से परे है।

यह स्थान पंजाब के श्री आनंदपुर साहिब से मात्र 10 किमी की दूरी पर बिलासपुर स्थित गुरुद्वारा गुरु का लाहौर में इटली समेत विदेशों से दल यहां पहुंच रहे हैं। इसी के साथ यहां बाहर से आये सैलानियों के स्वास्थ्य की भी जाँच की जा रही है।

Cultural programs will not be held in Himachal Pradesh’s famous Paonta Holi Fair, fear of Coronavirus

Related Posts