हिमाचल की बेटी ने रोशन किया परिजनों और प्रदेश का नाम, असिस्टेंट लोको पायलट बनी

हिमाचल प्रदेश के जिला काँगड़ा के विकास खंड भवारना के अंतर्गत आने वाली पंचायत पुनर के गांव मससैरना की लड़की ने असिस्टेंट लोको पायलट बन कर अपने गांव के साथ-साथ अपने परिजनों का नाम रोशन किया है। पिता रजिंदर की बेटी किरण बाला भारतीय रेलवे में एएलपी (असिस्टेंट लोको पायलट) के पद पर तैनात होने की तैयारी पर है।

बताया जा रहा है की किरण की इन दिनों कानपुर में ट्रेनिंग चली हुई है। इस ट्रेनिंग को पूरा करने के बाद वो प्रदेश की पहली महिला असिस्टेंट लोको पायलट होगी।

24 मार्च को पूरी हो जाएगी ट्रेनिंग

हिमाचल की यह बेटी रेलवे में ट्रेन ड्राइवर के रूप में पूर्ण रूप से अपनी सेवाएं देंगी। बताया गया है की किरण ने उक्त पद के लिए निकली निविदाओं में आवेदन किया और कड़ी मेहनत कर के परीक्षा उत्तीर्ण की है। प्राप्त जानकारी के अनुसार किरण बाला की ट्रेनिंग 24 मार्च को पूरी हो जाएगी। उनके पिता ने बताया कि रेलवे में पहली बार उक्त पद के लिए महिलाओं के लिए भी भर्तियां हुईं।

उन की बेटी ने यह परीक्षा उत्तीर्ण कर की उनका नाम प्रदेश भर में नाम रोशन किया है। साथ ही यह भी बताया की देश की बेटिंया लड़को से काम नहीं है। वो भी अपनी मेहनत और लग्न के साथ हर वो कार्य कर सकती है, जो लड़के कर सकते है। उन्हें अपनी बेटी पर गर्व है।

Himachal’s daughter illuminates family and state’s name, becomes assistant loco pilot

Related Posts