हिमाचल प्रदेश के जिला मंडी की बेटी बनी सेना में लेफ्टिनेंट

हिमाचल प्रदेश के जिला मंडी की बेटी भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट बनी है। इस बेटी ने प्रदेश का सिर गौरव से ऊंचा कर दिया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार मंडी की आरजू ठाकुर 22 वर्ष की आयु में सेना में लेफ्टिनेंट बन गई हैं। खास बात तो यह है की चेन्नई में हुई पासिंग परेड में हिमाचल प्रदेश से 07 युवाओं को लेफ्टिनेंट बनने का गौरव मिला है।

जिसमे से केवल आरजू ठाकुर ही हिमाचल से अकेली युवती हैं, जिसने लेफ्टिनेंट का रैंक प्राप्त किया है। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस से ठीक एक दिन पहले चेन्नई में 07 मार्च को हुई पासिंग परेड में आरजू को ओहदा मिला है। जिस से आरजू के परिजनों और प्रदेश भर को इस बेटी पर गर्व है।

प्रदेश के 06 लड़के और 01 लड़की ने परमानेंट कमीशन प्राप्त करने का गौरव किया हासिल

इसी के साथ आरजू ठाकुर मंडी जिला के गांव छलखी डा। दयारगी से संबंध रखती हैं। उनकी इस उपलब्धि के बाद पूरे परिवार, परिजनों और गांव में खुशी का माहौल है। भारतीय सैन्य प्रशिक्षण अकादमी चेन्नई में हुई पासिंग आउट परेड में 145 लड़कों और 33 लड़कियों ने भारतीय सेना में कमीशन प्राप्त किया, जिसमें हिमाचल के छह लड़के और एक लड़की आरजू ठाकुर भारतीय सेना मेें परमानेंट कमीशन प्राप्त करने का गौरव रचा है। जिस से उन्हें यह उपलब्धि प्राप्त हुई है।

परिजनों से मिली भारतीय सेना में जाने की प्रेरणा

इसी के साथ आरजू के पिता रिटायर्ड कैप्टन राजेश्वर ठाकुर और चाचा सुबेदार मेजर विजय ठाकुर भी सेना में कार्यरत हैं। इसी के साथ आरजू की माता अंजना ठाकुर सरकारी स्कूल में विज्ञान अध्यापिका हैं। छोटी बहन पंजाब से डाक्टरी की पढ़ाई कर रही हैं तथा छोटा भाई दसवीं कक्षा में पढ़ता है। अपनी बहन की इस उपलब्धि से उसे भी भारतीय सेना में जाने का दिशा निर्देश मिला है।

Lieutenant in army became daughter of Himachal Pradesh District Mandi

Related Posts