हिमाचल प्रदेश के लाहौल स्पीति की अद्भुत शिक्षा प्रणाली, 05 साल में नकल का एक भी मामला नहीं आया सामना

lahual spiti

हिमाचल प्रदेश में बोर्ड परीक्षाओं के दौरान लाहौल-स्पीति में पिछले पांच सालों में नकल का एक भी मामला सामने नहीं आया है। प्रदेश के जिला लाहौल में इस साल भी अभी तक एक भी विद्यार्थी के खिलाफ नकल का केस सामने नहीं आया है। जिले के 17 परीक्षा केंद्रों में दसवीं और जमा दो की बोर्ड परीक्षाएं चल रही हैं। सभी परीक्षा केंद्रों में (CCTV) कैमरों की नजर है।

शिक्षा प्रणाली प्रदेश भर में अवल रही है। दुर्गम इलाकों में सड़कें बंद होने के बावजूद उड़नदस्ते पैदल ही परीक्षा केंद्रों तक पहुंच रहे हैं। लाहौल घाटी में एकमात्र पेट्रोल पंप बंद होने से उड़नदस्तों को दूरदराज के परीक्षा केंद्रों तक पहुंचने के लिए वाहनों की सुविधा नहीं मिल रही है।

लाहौल स्पीति में लगभग 17 परीक्षा केंद्र है स्थापित

हिमाचल प्रदेश की कार्यकारी शिक्षा उपनिदेशक रमेश योतरपा ने बताया कि रिकॉर्ड के मुताबिक पिछले 5 सालों में बोर्ड परीक्षाओं में लाहौल-स्पीति से एक भी नकल का मामला सामने नहीं आया है। लाहौल में 10 और स्पीति में 7 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। जंहा परीक्षाएं करवाई जा रही है। इनमें लगभग 479 विद्यार्थी परीक्षा दे रहे हैं।

स्पीति में शिक्षा उपनिदेशक का अतिरिक्त कार्यभार देख रहे (SDM) जीवन सिंह नेगी ने कहा कि 05 सालों में नकल का एक भी मामला सामने नहीं से साबित होता है, कि जनजातीय जिले के विद्यार्थी अपनी मेहनत पर भरोसा करते हैं। यहां के छात्र भी अपनी पढ़ाई को लेकर बेहद सक्रिय है। और इतने दुर्गम इलाके में रह के भी परीक्षा में अपनी अछि प्रतिभा दिखा रही है।

Lahaul Spiti's wonderful education system in Himachal Pradesh, not a single case of copying has been encountered in 05 years