हिमाचल के सोलन जिले में एक निजी विश्वविद्यालय में स्टोर में मिलीं अनचैक्ड आंसरशीट

solan

हिमाचल प्रदेश के जिला सोलन के कुमारहट्टी में स्थित एक निजी विश्वविद्यालय में डिग्रियों के फर्जीबाड़े को लेकर एसपी सोलन की अध्यक्षता में गठित एसआईटी की कार्रवाई के दौरान रविवार को भी जारी रही। इसी दौरान तीन दिन से दिन-रात लगातार विश्वविद्यालय के स्टोर को खंगाला जा रहा है।

इसी बिच पुलिस ने विश्वविद्यालय के स्टोर में जांच के दौरान कई बिना चैक की गई आंसरशीट बरामद की हैं। प्रदेश पुलिस के अनुसार विश्वविद्यालय के खिलाफ धर्मपुर थाना में दो मामले भी दर्ज भी किए गए हैं।

हार्ड डिस्क, पेन ड्राइव व पांच लैपटॉप लिए हिरासत में

पहला मामला एसएचओ धर्मपुर और दूसरा मामला निजी शिक्षण संस्थान नियामक आयोग की शिकायत पर दर्ज किया गया है। इसके साथ ही यूनिवर्सिटी के प्रशासनिक ब्लॉक को भी सील कर दिया गया है। छापामारी के दौरान पुलिस ने यूनिवर्सिटी के रिकार्ड को खंगाला है।

प्राप्त जानकरी के अनुसार इस दौरान पुलिस द्वारा कम्प्यूटर की 30 हार्ड डिस्क, पेन ड्राइव व पांच लैपटॉप को अपने कब्जे में लिया है और उसे जांच के लिए लैब भेजा जा रहा है।

जांच के दौरान प्रदेश पुलिस को मिली महत्वपूर्ण जानकारी

एसएचओ धर्मपुर सहदेव की रिपोर्ट के तहत पहले से दर्ज मामले की जांच के लिए वह यूनिवर्सिटी गए तो वहां तलाशी के दौरान स्टूडेंट रजिस्ट्रेशन रिकार्ड व सॉल्व की गई उत्तर पुस्तिकाएं बरामद की गयी है। इस दौरान दो लोगों के एडमिशन फॉर्म भी पुलिस को बरामद हुए।

इसी दौरान दस्तावेजों का अवलोकन कर यह जानकारी मिली कि एक छात्र ने 2015-2018 बैच में बीसीए के कोर्स के लिए यूनिवर्सिटी में एप्लीकेशन फॉर्म सबमिट किया। मगर यूनिवर्सिटी ने इस पर रोल नंबर भी जारी किया और छात्र का पेपर देना भी पाया गया परन्तु इन उत्तर पुस्तिकाओं को चैक नहीं किया गया है।

बिना पेपर चेक किये डिग्रियां दे दी गयी

हैरानी की बात तो यह है की 2018 में उसे डिग्री भी जारी की गई है। इसी तरह दूसरे स्टूडेंट ने भी पेपर दिए पर ये चैक नहीं किए गए है और बिना चेक किये बिना डिग्रियां दे दी गयी है। जो उतर पुस्तिकाएं चैक की गईं हैं, उन पर कई जगह कटिंग की गई है और नंबरो को बढ़ाया गया है। जबकि आंसर शीट्स के अंदर कोई नंबर नहीं दर्शाए गए हैं। इस पुरे मामले की जांच चल रही है।

Unchecked tearsheet found in store at a private university in Solan district of Himachal