प्रदेश में बनी खांसी की दवाई से जम्मू में 12 बच्चों की मौत का मामला आया सामने

हिमाचल प्रदेश के जिला सिरमौर के कालाअंब में स्थित एक दवा निर्माता कंपनी में बनी खांसी की दवा से जम्मू में 12 बच्चों की मौत का बड़ा मामला सामने आया है, जिस से लोगो में आक्रोश का माहौल है।

इसके साथ ही इस दवा कंपनी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 308 के तहत आपराधिक मानव वध का मामला भी दर्ज किया गया है। प्राप्त जानकरी के अनुसार कंपनी का लाइसेंस आगामी आदेशों तक निलंबित कर दिया गया है।

बेहद हानिकारक कंटेंट पाए गए इस दवा में

प्रदेश में निर्मित इस दवा के नमूनों में भी मानव जीवन के लिए बेहद हानिकारक कंटेंट पाए गए हैं। जिस बजह से इन बच्चो की मृत्यु हुई है। प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने मंगलवार को विधानसभा सत्र के दौरान विशेष कर यह जानकारी

दी कि जम्मू के उधमपुर क्षेत्र में दवा पीने से करीब एक दर्जन बच्चों की मौत हो गई थी। इस पुरे मामले की जानकारी जम्मू प्रशासन की ओर से प्रदेश सरकार को आये ईमेल के माध्यम से सूचना दी गई थी।

कंपनी के विरुद्ध धारा (308) के तहत आपराधिक मानव वध का मामला दर्ज

प्रसिद्ध स्थान कालाअंब पुलिस थाना में कंपनी के खिलाफ कॉस्मेटिक एक्ट की धारा 18 ए-1, 17 ए, 27 ए और भारतीय दंड संहिता की धारा (308) के तहत आपराधिक मानव वध का मामला दर्ज किया गया है।

प्रदेश के मुख्यमंत्री ने बताया कि इस संबंध में सहायक औषधि नियंत्रक की अध्यक्षता में टीम बनाकर फर्म का निरीक्षण करने के लिए कहा गया। इसके साथ ही रिकॉर्ड को जांच के लिए कब्जे में ले लिया है। और जल्द ही जाँच पूरी कर ली जायेगी।

12 children died in Jammu due to cough syrup made in the state

Related Posts