प्रदेश सरकार को डिपुओं टेंडर का नहीं करना होगा इंतज़ार, सीधे दूसरे राज्यों से लेंगी राशन

himachal

हिमाचल प्रदेश सरकार को अब डिपो में सस्ते राशन के लिए कोई टेंडर आमंत्रित नहीं करना पड़ेगा। बल्कि अब प्रदेश सरकार सीधे दूसरे राज्यों की सरकारों और सरकारी एजेंसियों से सीधे राशन उठाएगी। इस दौरान अब टेंडर में गड़बड़ी होने की आशंका भी खत्म कर दी जाएगी। पहले कंपनी के लोग एक-दूसरे को रेट बताकर ऑनलाइन टेंडर के लिए आवेदन करते हैं। जिस बजह से सही रेट नहीं मिल पाता था सरकार ने अब यह झंझट गतम कर दिया गया है।

केंद्र से लेगी सरकार दालें

पहले इस बजह से प्रदेश सरकार को घाटा उठाना पड़ता था। जिस के दौरान लोगों को भी डिपो में महंगा राशन मिलता था। इसी लिए प्रदेश सरकार ने अब दूसरे राज्यों की सरकार के साथ तालमेल बिठाकर राशन उठाने का फैसला लिया है। हाल ही में प्रदेश सरकार ने सरसों और रिफाइंड तेल का टेंडर किया है।

इसमें भी रेट ज्यादा आए हैं। मार्केट में तेल के रेट में उछाल के चलते ऐसा हुआ है। प्रदेश सरकार ने दालें केंद्र से लेने शुरू कर दी हैं। जिस से आम जनता को बेहद लाभ मिल पायेगा।

सस्ता मिलेगा डिपुओं में राशन

अमिताभ अवस्थी सचिव खाद्य नागरिक एवं उपभोक्ता मामले द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार दी गयी जानकारी के अनुसार इस बार इस तेल का टेंडर खत्म होने के बाद ही प्रदेश सरकार अब हरियाणा, पंजाब या दूसरे राज्य जहां सस्ता तेल है सरकार अब वहीं से तेल खरीद कर डिपुओं में उपलब्ध करवाएगी। इसके साथ ही चीनी के लिए भी प्रदेश सरकार पंजाब सरकार से बात कर रही है।

पंजाब सरकार की एक एजेंसी खुद हिमाचल को सप्लाई करने के लिए तैयार है। इस से लोगो को बहुत से लाभ मिल पाएंगे। उन्हें डिपुओं में अच्छा और कम दर में राशन मिल पायेगा।

The state government will not have to wait for the depot tender, it will take ration directly from other states