हिमाचल प्रदेश में लॉकडाउन के चलते (SDM) पालमपुर ने छात्रों और आम लोगों संग बनाई अनोखी हेल्पलाइन, 24 घंटे पहुंचा रहे मदद

SDm palampur

हिमाचल प्रदेश के जिला काँगड़ा में स्तिथ पालमपुर उपमंडल के (SDM) धर्मेश रमोत्रा ने प्रदेश में लॉकडाउन के चलते लोगो की जरूरतों को पूरा करने के लिए एक नई पहल की शुरुआत की है। इस पहल में कर्मचारियों समेत स्थाानीय बिक्रम बतरा कॉलेज के विद्यार्थियों को भी जोड़ा गया है।

जो की इस प्रकार है। नमस्कार कोविड-19 हेल्पलाइन पालमपुर में आपका स्वागत है। हम आपकी क्या सहायता कर सकते हैं? बस एक फोन कॉल पर प्रशासन जनता की हर समस्या का समाधान कर रहा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार अब तक दो हजार से ज्यादा लोग इस हेल्पलाइन के माध्यम से घर बैठे समस्या का समाधान पा चुके हैं।

दिन रात दी जा रही सेवाएं

यह सहायता सिर्फ 10 या 12 घंटे नहीं बल्कि दिन-रात पूरे 24 घंटे दी जा रही है। कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन में जहां लोगों की जिंदगी थम गई है, ऐसे में उनकी जरूरतों को पूरा करने के लिए यह एक नई पहल शुरू हुई है। इस हेल्पलाइन की बजह से जरूरतमंद लोगों को उनके घर पर ही सुविधाएं प्राप्त हों रही है। और उन्हें बाहर नहीं भटकना पड़ रहा। बहुत से लोगो को इस का लाभ मिल रहा है।

प्रशासनिक अधिकारियों समेत कॉलेज विद्यार्थी भी दे रहे सेवाएं

हिमाचल प्रदेश का यह पहला सेंटर है जो लॉकडाउन में इस तरह से लोगों की मदद कर रहा है और लोगो की जरूरतों को पूरा कर रहा है। इसी के साथ आम नागरिकों को चिकित्सा, प्रशासकीय, सब्जी, राशन आदि से जुड़ी सुविधा प्रदान की जा रही है। लोगों तक सामान पहुंचाने के लिए प्रशासनिक अधिकारियों समेत कॉलेज विद्यार्थी भी वालंटियर के तौर पर फील्ड में भी सेवाएं दे रहे हैं।

जनता को दी आ रही यह सुविधाएं

011-61196361 नंबर फोन जनता की सेवा के लिए रखा गया है। आप इस हेल्पलाइन के माध्यम से चिकित्सा, सीनियर सिटीजन संबंधी जानकारी के साथ साथ हेल्थ जांच जानकारी, होम डिलीवरी अपने आस पास की जानकारी, शिकायत

दर्ज करवाने सहित अन्य मत्वपूर्ण जानकारियां पाने के लिए 07 नंबर दिए गए हैं, जिसमें आप किसी भी जानकारी के लिए हेल्पलाइन नंबर पर फोन करने के बाद अपनी जरूरत को लेकर बताए गए नंबर पर कॉल करके समस्या का निदान पा सकते हैं।

Due to the lockdown in Himachal Pradesh (SDM), Palampur has created a unique helpline with students and common people, helping 24 hours