प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ने लिया बड़ा फैसला-अन्य राज्यों से आने वालो को सिमा पर ही किया जायेगा क्वारंटाइन

jairam CM himachal

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बाहरी राज्यों से वापस आने के इच्छुक हिमाचलियों को चिकित्सा जांच और संस्थागत क्वारंटाइन के उपरांत ही अपने घर जाने का निर्णय लिया है। जानकारी के अनुसार यह बात मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने रविवार को राज्य सरकार द्वारा नियुक्त नोडल अधिकारियों की बैठक को संबोधित करते हुए कही। इसी दौरान नोडल अधिकारियों को देश के अन्य भागों में फंसे हिमाचल के लोगों को राज्य में वापस लाने के लिए संबंधित राज्य सरकारों से समन्वय स्थापित करने के लिए नियुक्त किया गया है।

देश के विभिन्न हिस्सों में फसे हिमाचलियों को लानी की तैयारी

साथ ही प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार देश के विभिन्न भागों में फंसे हिमाचल वासियों की सुरक्षा के प्रति चिंतित हैं। तथा उन्होंने यह भी कहा कि प्रदेश सरकार ने बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों को घर भेजने से पहले उन्हें क्वारंटाइन अवधि में रखने का निर्णय लिया है। साथ ही उन्होंने कहा कि पंजाब, महाराष्ट्र और देश के अन्य रेड जोन से आने वाले हिमाचलियों की कोविड-19 के लिए जांच की जाएगी।

तथा सीमा पर पुलिस की निगरानी और ज्यादा बड़ा दी जायेगी। इसी के साथ उन्होंने नोडल अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि उन्हें जिन राज्यों का कार्यभार सौंपा गया है। उनके नोडल अधिकारियों के साथ समन्वय बनाए रखें। ताकि जल्द से जल्द प्रदेशवासियो को हिमाचल लाया का सके।

52,763 हिमाचल के लोगों ने कोविड ई-पास के लिए किया आवेदन

साथ ही उन्होंने यह भी कहा की नोडल अधिकारियों के साथ समन्वय से हिमाचलियों को वापस लाने का मामला संबंधित राज्यों की सरकार के साथ जल्द से जल्द उठाया जा सके। इसी के साथ उन्होंने विद्यार्थियों को वापस लाने में प्राथमिकता दी जाएगी। इसी के साथ उन्होंने कहा कि देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे राज्य के 52,763 हिमाचल के लोगों ने कोविड ई-पास के लिए आवेदन किया है। इसी तरह हिमाचल प्रदेश में फंसे देश के विभिन्न राज्यों के लगभग 63,044 लोग अपने राज्यों को वापस जाना चाहते हैं। जानकारी के अनुसार उन्होंने कहा कि अब तक अन्य राज्यों के 30,219 लोग यहां से जा चुके हैं।

गोवा से चलेगी हिमाचल के लिए रेलगाड़ी 13 या 14 मई को गोवा से चलेगी

साथ ही उन्होंने यह भी कहा की दूसरे राज्यों में वापस जाने के इच्छुक लोगों को उनकी सुचारू वापसी के लिए सभी संभव सुविधाएं प्रदान की जाएं। साथ ही श्रमिकों को प्रदेश में ही रहने के लिए प्रेरित किया जाना चाहिए। ताकि उनके अभाव में विकास परियोजनाएं प्रभावित न हों। हिमाचल के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि

बंगलूर में फंसे हिमाचलियो को लाने की तैयारी

प्रदेश सरकार के आग्रह पर केंद्र सरकार ने गोवा में फंसे हिमाचल प्रदेश के लोगों को राज्य में वापस लाने के लिए थिविम मड़ी गांव करमाली से ऊना तक विशेष रेलगाड़ी चलाने के लिए सहमति प्रदान की है। जानकारी के अनुसार यह विशेष रेलगाड़ी 13 या 14 मई को गोवा से चलेगी। इसके साथ ही बंगलूर में फंसे हिमाचल प्रदेश के लोगों को वापस लाने के लिए 11 मई को बंगलूर से ऊना के लिए एक और स्पेशल ट्रेन चलाई जाएगी।

State Chief Minister Jairam took a big decision – those coming from other states will be quarantined only on Sima

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *