हिमाचल में स्तिथ निजी स्कूलो को मिली बड़ी राहत, ट्यूशन फीस और वार्षिक शुल्क लेने पर बनी सहमति, शिक्षा मंत्री ने दी जानकारी

देश विदेश में फैले कोरोना से बचाव को मार्च से बंद निजी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों के अभिभावकों से मार्च से मई तक ट्यूशन फीस और वार्षिक शुल्क ही लेने पर लगभग सहमति बन गई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार गुरुवार को इस मामले पर शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने हिमाचल प्रदेश के निजी स्कूल संचालकों के साथ वीडियो कांफ्रेंस से चर्चा की। इसी दौरान बैठक के बाद शिक्षा मंत्री ने बताया कि अभिभावकों और निजी स्कूल दोनों के हित में फीस कटौती का प्रस्ताव बनाया गया है। जिस से निजी स्कूलों छात्रों से केवल ट्यूशन फीस और वार्षिक शुल्क ही लेंगे।

बैठक में यूशन फीस के साथ एनुअल चार्जिस भी अभिभावकों से लेने की योजना बनाई

जानकारी के अनुसार फीस कटौती का प्रस्ताव इस मंत्रिमंडल बैठक में लाया जाएगा। इसी दौरान वीडियो कांफ्रेंस के दौरान शिक्षा मंत्री ने निजी स्कूलों के संचालकों को नए आदेशों जारी होने तक फीस नहीं लेने के निर्देश दिए। इसी के साथ उन्होंने निजी स्कूलों को राहत देते हुए शिक्षा विभाग ने फीस कम करने के पुराने प्रस्ताव में बदलाव करते हुए अब ट्यूशन फीस के साथ एनुअल चार्जिस भी अभिभावकों से लेने की योजना बनाई है।

साथ ही निजी स्कूलों का दबाव बढ़ने पर विभाग ने पहले बनाए सिर्फ ट्यूशन फीस ही लेने के प्रस्ताव को संशोधित किया है। जानकारी के अनुसार मंत्रिमंडल में हुई इस बैठक में नए और पुराने दोनों प्रस्ताव ले जाने की तैयारी है। जिस के बाद यह दोनों योजनाओ के लाभ निजी स्कूलों को मिल पायेगा।

शिक्षा मंत्री ने सचिवालय से वीडियो कांफ्रेंस से प्रदेश के विभिन्न निजी स्कूलों के प्रधानाचार्यों व संचालकों को दी जानकारी

इसी के अनुसार गुरुवार को शिक्षा मंत्री ने सचिवालय से वीडियो कांफ्रेंस कर हिमाचल प्रदेश के विभिन्न जिलों के निजी स्कूलों के प्रधानाचार्यों व संचालकों तथा शिक्षा विभाग के उपनिदेशकों के साथ बैठक की। इस दौरान मंत्री ने कहा कि देश में कोविड-19 के संकट के बावजूद प्रदेश में ऑनलाइन कक्षाओं, सोशल मीडिया प्लेटफार्म, दूरदर्शन पर शैक्षणिक कार्यक्रम तथा इंटरनेट के माध्यम से पढ़ाई को जारी रखा है।

साथ ही उन्होंने कहा की हिमाचल सरकार को सभी वर्गों व क्षेत्रों की चिंता है। इन विशेष परिस्थितियों में सरकार महत्वपूर्ण निर्णय लेगी, जिसमें सभी के हितों का ध्यान रखा जाएगा और निजी स्कूलों में पड़ रहे छात्रों का भी ध्यान रखा जायेगा।

Private schools in Himachal got big relief, agreed to take tuition fees and annual fees, education minister informed

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *