जांच में खरा नहीं उतर पाया दूध, जांच के दौरान हुआ बड़ा घुलासा, जानिए पूरी जानकारी

himachal

हिमाचल प्रदेश में बाजार में बेचा जा रहा दूध, ग्रीन टी और मल्टी विटामिन जिंक आयरन के भरे गए सैंपल जांच में खरे नहीं उतर सके हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार सोलन में भरा गया दूध का सैंपल सब स्टैंडर्ड, मल्टी विटामिन जिंक आयरन मिस ब्रांडेड और ग्रीन टी का सैंपल भी मिस ब्रांडेड पाया गया है। इसी के साथ विभाग की ओर से अब कारोबारियों को नोटिस जारी किया जाएगा। इसी के साथ यदि संतोषजनक जवाब न मिल पाया तो विभाग की ओर से कार्रवाई की जाएगी। तथा उन का लाइसेंस रद्द कर दिया जाएगा।

खाद्य सुरक्षा विभाग डॉ. एलडी ठाकुर ने दी जानकारी

जानकारी के अनुसार सहायक आयुक्त खाद्य सुरक्षा विभाग डॉ. एलडी ठाकुर ने बताया कि दूध का सैंपल सब स्टेंडर्ड पाया गया है। इसी के साथ वहीं मल्टी विटामिन जिंक आयरन और ग्रीन टी एक्सट्रेक्ट मिस ब्रांडेड पाए गए हैं। इसमें मिस ब्रांडेड होने पर 3 लाख और सब स्टैंडर्ड होने पर 05 लाख जुर्माना भी भुगतना पड़ सकता है। इससे पूर्व भी विभाग की ओर से सैंपल भरे गए थे।

अभी तक जांच के दौरान 13 सैंपल फेल हो चुके

जो उम्मीदों पर खरे नहीं उतर सके थे। अब तक जांच के दौरान 13 सैंपल फेल हो चुके हैं। इन सभी मामलों में कारोबारियों पर कार्रवाई की जा रही है। अभी भी विभाग को अन्य चार सैंपलों की रिपोर्ट आने का इंतजार है।

यदि यह सैंपल भी फेल हुए तो विभाग द्वारा करवाई की जा सकती है। इसी के साथ सहायक आयुक्त खाद्य सुरक्षा विभाग डॉ. एलडी ठाकुर ने बताया कि दूध का सैंपल सब स्टैंडर्ड पाया गया है। इसी के साथ कारोबारियों को जवाब देने के लिए 30 दिन का समय दिया गया है। इन दिनों में ही कारोबारियों को जबाब देना होगा।

Milk could not live up to the investigation, big dissolution happened during the investigation, know full details

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *