निजी बस ऑपरेटर्ज ने लिया बड़ा फैसला, नहीं चलाएंगे 50 प्रतिशत सवारियों के साथ वाहन

himachal pradesh HRTC

हिमाचल प्रदेश के निजी बस ऑपरेटर्ज ने 50 फीसदी सवारियोें के साथ बसें न चलाने का निर्णय लिया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार सोमवार को प्रदेश निजी बस ऑपरेटर संघ की एक वीडियो कान्फ्रेंस हुई है। जिसमें यह निर्णय लिया गया है।

संघ के प्रधान राजेश पराशर की अध्यक्षता में संपन्न हुई इस बैठक में हिमाचल प्रदेश की सभी यूनियन के पदाधिकारियों ने भाग लिया। इसी बैठक में निर्णय लिया गया है कि अगर प्रदेश सरकार द्वारा 50 प्रतिशत क्षमता के साथ बसें चलाने का आदेश दिया जाता है। मगर सरकार के इस निर्णय से निजी बस चालक नाखुश है।

निजी बस ऑपरेटर्ज को कोई न कोई पैकेज जरूरत देना होगा

साथ ही उन्होंने यह कहा की यदि ऐसा हुआ तो उसके लिए कोई भी तैयार नहीं होगा। इसलिए संघ ने प्रस्ताव पारित कर निर्णय लिया गया है कि अगर निकट भविष्य में सरकार द्वारा बसें चलाने का आदेश दिया जाता है। तो सरकार के आदेश का पूरा पालन किया जाएगा।

जानकारी के अनुसार सरकार को निजी बस ऑपरेटर्ज को कोई न कोई पैकेज जरूरत देना होगा। जब तक सरकार द्वारा किसी राहत राशि की घोषणा नहीं की जाती है, तब तक हिमाचल प्रदेश में कोई भी बस में चलेगी। सरकार को जल्द ही इस पर निर्णय लेना होगा।

Private bus operators take big decision, will not drive vehicles with 50 percent riders

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *