प्रदेश में निजी स्कूलों के लिए बड़ी खबर, तीन माह की ट्यूशन फीस ही वसूलें, सरकार देने जा रही रियायतें

himachal school and collage

हिमाचल प्रदेश में फैले कोरोना वायरस से बचाव के लिए लागू किए गए लॉकडाउन के दौरान हिमाचल प्रदेश के लाखों अभिभावकों को निजी स्कूलों की फीस कम करवा कर राहत देने की कवायद तेज हो गई है। जानकारी के अनुसार मंगलवार को मंत्रियों की सब कमेटी की बैठक में भी इस मामले को लेकर चर्चा की गयी है। संभावित है कि

फीस कम करने पर निजी स्कूलों को बिजली-पानी बिल और अन्य तरह के टैक्स में छूट दी जा सकती है। ऐसे में मार्च से मई तक की सिर्फ ट्यूशन फीस ही वसूलने के निर्देश सरकार दे सकती है। प्राप्त जानकारी के अनुसार कहा जा रहा है कि 08 मई को प्रस्तावित मंत्रिमंडल की बैठक में इस प्रस्ताव को लेकर फैसला हो जाएगा।

प्रशासनिक सचिवों और विभागीय अधिकारियों की टीमें प्रस्ताव बनाने में जुटी

इसी के साथ प्रशासनिक सचिवों और विभागीय अधिकारियों की टीमें इस बाबत प्रस्ताव बनाने में जुटी हुई हैं। निजी स्कूलों से तीन महीनों की फीस कम करवाने के लिए उन्हें भी राहत देने की योजना बनाई गयी है। इसके तहत मार्च से मई तक के बिजली और पानी बिल सहित प्रापर्टी टैक्स और स्कूल बसों के टैक्स में कुछ छूट दी जा सकती है।

इस छूट से निजी स्कूलों को भी कुछ राहत मिलेगी। सरकार भी निजी स्कूलों को अभिभावकों को फीस कम करवा कर राहत दे सकेगी। इस योजना से निजी स्कूलों को बेहद आहात मिल पाएगी।

निजी स्कूलों को मिल पाएगी थोड़ी राहत

अब प्रदेश सरकार ने तय करना है कि निजी स्कूलों की फीस को कम किस तरह से करवाया जाए। तथा निजी स्कूल अगर इससे इंकार कर दें तो सरकार क्या कदम उठा सकती है। इसी के साथ वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के दौरान विभिन्न एक्ट के तहत सरकार क्या कदम उठा सकती है। इसको लेकर भी प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है। प्रस्ताव तैयार होने से प्रदेश में स्तिथ निजी स्कूलों को बेहद राहत मिल सकेकेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *