राजधानी शिमला में एक भयानक हादसा, ढारे में आग लगने से दो साल का मासूम जिंदा जला

himachal pradesh

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला स्थित थाना ढली के तहत डाक बंगला के पास ढारे में लगी आग में एक दो साल का मासूम जिंदा जल गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार घटना के वक्त घर में नेपाली परिवार के छह बच्चे ही मौजूद थे। इसी के साथ मां-बाप काम के चलते कहीं बाहर गए हुए थे। आग देर रात लगी। आग लगने के बाद सभी बच्चे बाहर निकल आए लेकिन दो साल का मासूम निखिल ढारे के अंदर ही आग की लपटों से घिर गया।

इसी के साथ आसपास के लोग जब तक बच्चे के पास पहुंचे वह काफी झुलस चुका था, उसने कुछ देर बाद ही दम तोड़ दिया। बच्चे को आईजीएमसी में पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है। बच्चे के परिजन इस हादसे से सदमे में है।

अपने 06 बच्चो के साथ रहता था नेपाली शांत बहादुर

घटना स्थल पर पहुंची पुलिस के मुताबिक देर रात हुई इस घटना की सूचना मिलने पर छोटा शिमला से अग्निशमन विभाग का बचाव दल मौके के लिए रवाना हुआ। लेकिन वहां मौके पर मौजूद लोगों ने खुद ही आग पर काबू पा लिया। इस कारण बचाव दल को आधे रास्ते से ही लौटा दिया। जानकारी के अनुसार यह नेपाली शांत बहादुर के ढारे में उसका आठ सदस्यीय परिवार रह रहा था। इसमें नेपाली, उसकी पत्नी और छह बच्चे रह रहे थे।

अधिक झुलसने के कारण बच्चे ने दम तोड़ दिया

अन्य आग लगने के बाद सुरक्षित निकल गए लेकिन दो साल का मासूम निखिल आग में घिर गया। बच्चा अधिक झुलसने के कारण बच्चे ने बाद में दम तोड़ दिया। शिमला एएसपी प्रवीर ठाकुर ने घटना की पुष्टि करते बताया कि फोरेंसिक टीम ने मौके का निरीक्षण कर साक्ष्य जुटाए हैं, मामला दर्ज करने के बाद पुलिस की जांच जारी है। साथ ही आग के लगने के कारण का पता लगाया जाएगा।

A terrible accident in the capital Shimla, two years innocent burnt alive due to fire in Dhara

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *