प्रदेश में 72 दवा कंपनियों को नोटिस जारी, एक कंपनी का उत्पादन लाइसेंस रद्द

हिमाचल प्रदेश में दवा नियंत्रण विभाग ने फार्मा हब बद्दी-बरोटीवाला-नालागढ़ में तैयार हो रही दवाएं मानकों पर सही नहीं उत्तर पा रही है। प्राप्त जानकारी के अनुसार इस लिए प्रदेश में 72 कंपनियों को नोटिस जारी कर उनके लाइसेंस निलंबित किए हैं। बताया जा रहा है की यह कार्रवाई वित्त वर्ष 2019-20 में की गई।कर दिया है। साथ ही 04 मामलों में उत्पाद का दोबारा परीक्षण होना है।

इसी के साथ 04 अन्य मामलों में विभाग की ओर से कंपनियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। जानकारी के अनुसार एक कंपनी ने उत्पादन बंद कर दिया है। इसकी जानकारी उप दवा नियंत्रक बद्दी मनीष कपूर ने दी है।

दवा परीक्षण में 398 गुणवत्ता के अनुरूप नहीं पाई गयी दवाइया

जानकारी के अनुसार मनीष कपूर ने बताया कि प्रदेश सरकार के निर्देश तथा केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन के नियमों के अनुसार बताया गया है की अप्रैल 2019 से मार्च 2020 की अवधि में देश में निर्मित दवाओं के 13 हजार 610 नमूने एकत्र किए गए। इसी के साथ परीक्षण के बाद इनमें से 398 गुणवत्ता के अनुरूप नहीं पाए गए। उन्होंने कहा कि इन 398 दवा नमूनों में से 82 हिमाचल प्रदेश में स्थापित दवा कंपनियों के थे। इसी दौरान निरीक्षण कर्मियों को निर्देश दिए गए हैं कि वे समय-समय पर कंपनियों का निरीक्षण करें।

ऐसी दवा कंपनियों पर विशेष ध्यान दिया जाए, जिनकी दवाओं के नमूने गुणवत्ता के अनुरूप नहीं पाए गए। वित्त वर्ष 2018-19 में 123 दवाओं के नमूने गुणवत्ता के अनुरूप नहीं पाए गए थे। जिस बजह से प्रदेश की इन कंपनियों को निर्देश दे दिए गए है।

कालाअंब में डिजिटल विजन कंपनी को पूरी तरह बंद कर दिया गया

जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की कालाअंब में डिजिटल विजन कंपनी को पूरी तरह बंद कर दिया है। इसके अलावा लाइफ विजन हेल्थकेयर, एलिन, टाइटेंज, सिपला, वी लैबोरेट्रीज, मेडिपोल, स्कॉट एडिल, सिंबोसिस फार्मास्यूटिकल और अथिनज लाइफ साइसेंज बोफिन बायोटेक, अलगेन हेल्थकेयर, सपास रेमेडीज,

आईबीएन हर्ब्स, टेरेस, जीडीएस, सनवेट, एचएल हेल्थकेयर, थियोन, लिगन फार्मास्यूटिकल टेरेंट फार्मा, आदि कंपनियों पर भी दवा नियंत्रण विभाग ने कार्रवाई शुरू कर दी है। तथा इन से भी कारण पूछा गया है। यदि दवा विभाग को सही और सुचारु कारण नहीं बताया तो इन को भी बंद किया जा सकता है।

Notice issued to 72 pharmaceutical companies in state, production license of one company canceled

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *