हिमाचल में 90 शिक्षा खंडों में स्कूल खोलने की केंद्र सरकार ने दी मंजूरी, शैक्षणिक गतिविधियां शुरू करने की योजना बना रही सरकार

केंद्र सरकार की हरी झंडी मिलते ही हिमाचल प्रदेश में 90 शिक्षा खंडों से स्कूल खोलने की शुरुआत की जायेगी। प्राप्त जानकारी के अनुसार हिमाचल प्रदेश के कुल 128 शिक्षा खंडों में से 90 ऐसे हैं जो प्रदेश में फैले कोरोना संकट के बीच ग्रीन जोन में ही रहे हैं। इसी के साथ हिमाचल प्रदेश सरकार इन स्कूलों को खोलकर शैक्षणिक गतिविधियां शुरू करने की योजना बना रही है। इसी के साथ शुक्रवार को केंद्रीय मंत्रालय को स्कूल खोलने के विभिन्न विकल्पों का प्रस्ताव तैयार कर शिक्षा विभाग ने भेज दिया है। जल्द ही चयनित खंडो में जल्द ही स्कूलों को खुला जायेगा।

विद्यार्थियों की काउंसलिंग अभिभावकों से चर्चा और स्कूलों की सैनिटाइजेशन करवाने की बात भी प्रस्ताव में कही

प्राप्त जानकारी के अनुसार शैक्षणिक सत्र शुरू करने से पहले विद्यार्थियों की काउंसलिंग अभिभावकों से चर्चा और स्कूलों की सैनिटाइजेशन करवाने की बात भी प्रस्ताव में कही गई है। इसी के साथ शिक्षा सचिव राजीव शर्मा ने बताया कि केंद्र सरकार से स्कूल खोलने को लेकर गाइडलाइन जारी होने के बाद प्रदेश सरकार स्वयं अपनी गाइडलाइन भी बनाएगी।

प्रदेश शिक्षा विभाग ने अपने सुझावों का प्रस्ताव केंद्र को भेज दिया

इसी के साथ सभी हितधारकों से चर्चा करने के बाद सरकार से गाइडलाइन को मंजूर करवाया जाएगा। जानकारी के अनुसार केंद्रीय मानव विकास संसाधन मंत्रालय के सचिव ने सभी राज्यों के शिक्षा सचिवों के साथ चर्चा करने के बाद शुक्रवार तक सुझाव देने को कहा था। इसी कड़ी में हिमाचल प्रदेश शिक्षा विभाग ने अपने सुझावों का प्रस्ताव केंद्र को भेज दिया है।

सुबह और शाम की शिफ्ट में कक्षाएं होंगी शुरू

इसी के साथ प्रस्ताव के तहत स्कूल खोलने के लिए विभिन्न विकल्पों को उल्लेख किया गया है। प्रदेश में फैले कोरोना के खौफ के चलते छात्रों की अधिक संख्या वाले सरकारी स्कूलों में एक दिन छोड़ कर कक्षाएं लगाने, सुबह और शाम की शिफ्ट में कक्षाएं लगाने 20 बच्चों से कम संख्या वाले साढ़े 5,000 स्कूलों को पहले खोलने, बोर्ड कक्षाओं को ही शुरू करने सहित कुछ अन्य विकल्पों से केंद्र को अवगत करवाया गया है। इन स्कूलों में छात्रों को कोरोना से बचने और शारीरिक दुरी बनाये रखने के भी निर्देश दिए जाएंगे।

काउंसलिंग करने अभिभावकों को जागरूक करने की बात भी प्रस्ताव में कही गई

इसके अलावा हिमाचल प्रदेश में स्कूल खुलने से पहले बच्चों के मन से कोरोना का भय दूर करने के लिए उनकी काउंसलिंग करने अभिभावकों को जागरूक करने की बात भी प्रस्ताव में कही गई है। इसी के साथ प्राप्त जानकारीके के अनुसार शिक्षा सचिव राजीव शर्मा ने बताया कि स्कूल खोलने से पहले सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए सिटिंग प्लान बनाए जाएंगे।

छुट्टियों को समाहित करने के लिए आने वाली छुट्टियों को कम किया जाएगा

इसी के साथ स्कूलों में इन दिनों चल रही छुट्टियों को समाहित करने के लिए आने वाली छुट्टियों को कम किया जाएगा। साथ ही शैक्षणिक सत्र को बढ़ाया भी जा सकता है। इसके साथ ही सिलेबस में भी कटौती की जा सकती है। जिस से छात्रों को अधिक परेशानी नहीं होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *