बड़ी खबर- हिमाचल में कोरोना के कारण भवारना के 52 वर्षीय व्यक्ति की हुई मौत, 07 पहुंचा मृतकों का आंकड़ा

हिमाचल प्रदेश एक बड़ी खबर सामने आई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमण से सातवीं मौत हो चुकी है।

बताया जा रहा है की कांगड़ा जिला के भवारना के 52 वर्षीय व्यक्ति किडनी और मधुमेह के रोग से भी पीड़ित थे।

इसी के साथ दिल्ली से लौटने के बाद 20 जून को इन्हें जोनल अस्पताल धर्मशाला में दाखिल किया गया था।

कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद 23 जून को इन्हें एंबुलेंस से मंडी जिला के नेरचौक कोविड अस्पताल पहुंचाया गया।

इसी दौरान गुरुवार सुबह तबीयत बिगड़ने पर इन्हें वेंटीलेटर पर शिफ्ट किया गया लेकिन इन्होंने दम तोड़ दिया। जानकारी के अनुसार डीसी मंडी ऋग्वेद ठाकुर ने इसकी पुष्टि की है।

अंतिम संस्कार शुक्रवार सुबह नेरचौक में ही किया जाएगा

बताया जा रहा है की इनका अंतिम संस्कार शुक्रवार सुबह नेरचौक में ही किया जाएगा। इसी के साथ यह संक्रमित 20 जून को पत्नी, बेटी और बेटे सहित कांगड़ा लौटा था।

57 वर्षीय व्यक्ति दिल्ली में टैक्सी चलाता था। इसका पूरा परिवार दिल्ली में ही रहता था। टैक्सी चालक पहले से ही किडनी रोग, शुगर और ब्लड प्रेशर से लड़ रहा था।

जानकारी के अनुसार माना जा रहा है कि परिवार को डर था कि कोरोना महामारी और लॉकडाउन के बीच दिल्ली में किडनी रोग, शुगर और ब्लड प्रेशर का इलाज समय पर नहीं हुआ तो दिक्कत आ सकती है।

इसलिए पूरा परिवार 20 जून को दिल्ली से कांगड़ा आया था। यह परिवार पालमपुर के भवारना का रहने वाला है।

नेरचौक में दो दिन के इलाज के बाद टैक्सी चालक ने दम तोड़ दिया

प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रशासन ने परौर स्थित राधा स्वामी सत्संग भवन में संस्थागत क्वारंटीन किया था। यह परिवार भवारना नहीं गया था।

इसी के साथ 22 जून को परौर में 57 वर्षीय टैक्सी चालक की तबीयत खराब हुई। उसके बाद इस व्यक्ति को तुरंत इसी दिन धर्मशाला अस्पताल लाया गया।

साथ ही रात को ही इस व्यक्ति का कोरोना वायरस का सैंपल लिया गया। तथा 23 जून को व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। बताया जा रहा है

की रात को ही मरीज को नेरचौक स्थित मेडिकल कॉलेज में शिफ्ट किया गया था। इसी के साथ नेरचौक में दो दिन के इलाज के बाद टैक्सी चालक ने दम तोड़ दिया।

इस व्यक्ति की मौत से प्रदेश में कोरोना पीड़त मृतकों की संख्या 07 पहुंच गयी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *